कांग्रेस का सत्याग्रह नहीं बल्कि असत्य के लिए आग्रह  है : जेपी नड्डा

 भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने कांग्रेस के द्वारा किए जा रहे हैं सत्ताग्रह आंदोलन पर कहा कि यह सत्याग्रह नहीं बल्कि असत्य के लिए आग्रह है। नड्डा ने कहा कि कांग्रेस की मंशा यह है कि सच यह है कि सख्त को ग्रहण लगाने की कोशिश है। 

जेपी नड्डा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी जो विषय उठा रही है देश के लिए आवश्यक नहीं है ना ही पार्टी के लिए लेकिन यह सब धरना प्रदर्शन आदि एक परिवार को सिर्फ बचाने का प्रयास चल रहा है। नेता ने कहा कि नेशनल  हेराल्ड मामले में करोड़ो रुपए का घोटाला हुआ है इससे जुड़े लोगों को जांच एजेंसी के सामने जबाव देना चाहिए और यही करने की आवश्यकता है।लेकिन यह परिवार अपने आप को देश और कानून से उपर समझता है। यदि कोई इस बारे में उनसे सवाल पूछे तो उन्हें नागवार गुजरता है। कोई उनसे सवाल करे तो यह परिवार स्वीकार नहीं करते हैं। जेपी नड्डा ने कहा पीएमएलए को लेकर दायर याचिका पर अभी अभी सुप्रीम कोर्ट का फैसला अया है। सुप्रीम कोर्ट ने प्रीवेंशन ऑफ मनी लौन्ड्रिंग एक्ट और ईडी के ज्यूरिडिक्शन को अपहोल्ड किया है।कानून अपना काम कर रहा है। कानून के आगे किसी भी विषय को रखना, किसी भी व्यक्ति का अधिकार है और यही आवश्यक भी है।लेकिन कांग्रेस पार्टी और एक परिवार को कानून से उपर समझने की कुत्सित प्रयास है। यह इस देश में चलने वाला नहीं है। देश कानून और नियम से चलता है। कानून एवं नियम सबके लिए बराबर है। नियम एवं कानून का जबाव देना सबकी जिम्मेवारी है। नंदा ने कहा कि देश की चाहे किस कोई भी पार्टी हो उस पर भी वही कानून लागू होता है इसी वजह से कांग्रेस पार्टी और परिवार को भी नियम के अनुसार चलना चाहिए और कानून को जवाब देना चाहिए। जेपी नड्डा ने कहा कि जांच एजेंसी को कैसे कोई दुरुपयोग कर सकता है क्योंकि ईडी स्वतंत्र एजेंसी है और अपने ढंग से काम करती है। ईडी ने स्वयं छापेमारी कर लाखों करोड़ों रुपए जप्त किया है। ईडी देश के लिए काम पढऩे वाली एक एजेंसी है जो कोई भी जांच कानून के दायरे में काम करती है। नड्डा ने कहा कि किसी भी जांच एजेंसी की बात यदि किसी को पसंद नहीं है तो उसके लिए कानून का दरवाजा खुला हुआ है। जांच एजेंसी के खिलाफ सड़कों पर आना कहीं ना कहीं यह दर्शाता है कि कानूनी लड़ाई में वह कमजोर है। दद्द ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने प्रीवेंशन ऑफ मनी लौन्ड्रिंग एक्ट और ईडी के ज्यूरिडिक्शन को अपहोल्ड किया है। हम न्यायालय का सम्मान करते हैं। देश के संविधान एवं कानून का सम्मान करते हैं।

राष्ट्रीय न्यूज़

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

11 − 6 =

Back to top button