30 C
Lucknow
Wednesday, April 24, 2024

पुणे में अफ्रीकन स्वाइन फीवर वायरस ने दी दस्तक, जानें इसके बारे में सब कुछ

Print Friendly, PDF & Email

नई दिल्ली। अफ्रीकन स्वाइन फीवर (African Swine Fever) सुअरों में होने वाली एक बेहद घातक बीमारी (disease) है, जिसका संक्रमण (infection) जानवरों से जानवरों के बीच देखा जाता है। पिछले महीने के आखिर में पुणे (Pune) में इस बीमारी (disease) के दो मामले सामने आए थे, जिसे लेकर राज्य पशुपालन विभाग में हड़कंप मचा गया था।

यह भी पढ़ें-स्किन के साथ बालों के लिए भी रामबाण है गर्म पानी, जानें इसके फायदे

इसके बाद संक्रमित सूअरों (infected pigs) को मारने का रास्ता अपनाया गया, चूंकि इस जानलेवा बीमारी में मृत्यु दर 100 प्रतिशत है। आइए जानते हैं क्या है यह बीमारी और कैसे दिखते हैं इसके लक्षण। अमेरिकी फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन के मुताबिक, अफ्रीकन स्वाइन फीवर वायरस (African Swine Fever) सुअरों में होने वाली एक घातक और संक्रामक बीमारी (disease) है। ये पालतू और जंगली दोनों सुअरों (wild pigs) में देखी जा सकती है।

अभी तक इसका ज्यादा असर मनुष्यों पर तो देखने को नहीं मिला है लेकिन ये एक खतरनाक बीमारी (dangerous disease) है। बता दें इस बीमारी का संक्रमण (infection) पशु से पशु के बीच तेजी से फैलता है। ये (African Swine Fever) एक संक्रामक श्वसन रोग (infectious respiratory disease) होता है जो आमतौर पर सूअरों को अपनी जद में लेता है। इसका मुख्य कारण इन्फ्लुएंजा ए (एच1एन1) वायरस बताया जाता है।

Tag: #nextindiatimes #infection #AfricanSwineFever

RELATED ARTICLE