36 C
Lucknow
Wednesday, April 24, 2024

मुश्किल में सत्येन्द्र जैन, इस मामले को लेकर LG ने दी CBI जांच की मंजूरी

Print Friendly, PDF & Email

नई दिल्ली। एलजी वीके सक्सेना (LG VK Saxena) ने दिल्ली के पूर्व मंत्री और आप नेता सत्येन्द्र जैन (Satyendar Jain) के खिलाफ सीबीआई (CBI) जांच की मंजूरी दी है। बता दें, सत्येन्द्र जैन पर 10 करोड़ रुपये की उगाही का आरोप है। सत्येंद्र जैन को ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार किया गया था।

यह भी पढ़ें-इन 5 राज्यों में कांग्रेस-AAP गठबंधन लड़ेगा चुनाव, सीटों का हुआ एलान

सत्येंद्र जैन (Satyendar Jain) पर तिहाड़ जेल के पूर्व डीजी संदीप गोयल के साथ मिलकर जेल से जबरन वसूली रैकेट चलाने और दिल्ली की विभिन्न जेलों में हाई प्रोफाइल कैदियों से प्रोटेक्शन (protection) मनी मांगने का आरोप है। एलजी सक्सेना (LG VK Saxena) ने मामले में आवश्यक कार्रवाई के लिए सीबीआई (CBI) जांच की मंजूरी देते हुए इस मामले को गृह मंत्रालय के पास भी भेजा है। इससे पहले, एलजी (LG VK Saxena) ने जैन और तिहाड़ जेल के पूर्व डीजी संदीप गोयल के इशारे पर पैसे निकालने के लिए तिहाड़ जेल के तत्कालीन अधीक्षक राज कुमार के खिलाफ सीबीआई (CBI) जांच की भी मंजूरी दे दी थी।

सुकेश चंद्रशेखर ने जैन (Satyendar Jain) पर आरोप लगाया था कि उन्होंने 2018-21 के दौरान व्यक्तिगत रूप से या अपने सहयोगियों के माध्यम से विभिन्न किस्तों में उनसे 10 करोड़ रुपये प्राप्त किए थे, ताकि वह दिल्ली के विभिन्न जेलों में शांति से रह सकें। जैन (Satyendar Jain) इस दौरान आप सरकार (AAP government) में जेल मंत्री भी थे। सत्येंद्र जैन (Satyendar Jain) और राज कुमार के अलावा दो अधिकारियों संदीप गोयल और मुकेश प्रसाद पर भी साढ़े 12 करोड़ रुपये लेने के आरोप लगाया गया है।

सत्येंद्र जैन (Satyendar Jain) को ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार किया गया था। फिलहाल वह स्वास्थ्य के आधार पर जमानत पर हैं। उन पर तिहाड़ में रहने के दौरान बॉडी मसाज और वीआईपी ट्रीटमेंट लेने का भी आरोप था। बता दें कि मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपी सुकेश चन्द्रशेखर (Sukesh Chandrashekhar) ने दिल्ली के एलजी वीके सक्सेना (LG VK Saxena) को पत्र लिखा था, जिसमें महाठग ने जैन पर जबरन वसूली करने के आरोप लगाए थे और मामले में सीबीआई (CBI) जांच की मांग की थी।

Tag: #nextindiatimes #SatyendarJain #CBI #LG

RELATED ARTICLE