23 C
Lucknow
Tuesday, March 5, 2024

‘परीक्षा पे चर्चा’ में PM मोदी ने बताया कैसे दें परीक्षा, छात्रों को दिए ये टिप्स

Print Friendly, PDF & Email

नई दिल्ली। बच्चों में बोर्ड परीक्षा (Board Exam 2024) के लिए कोई चिंता न रहे इसके लिए PM Modi ने आज परीक्षा पे चर्चा की। 10वीं और 12वीं कक्षा के छात्रों से बात करते हुए पीएम मोदी ने देश भर के छात्रों के तनाव (stress) को कम करने के लिए टिप्स दिए।

यह भी पढ़ें-CM हेमंत सोरेन से ED की टीम कर रही पूछताछ, अलर्ट पर पुलिस

इस कार्यक्रम में पीएम (PM Modi) के साथ करीब 3000 छात्र शामिल हुए। इस आयोजन में देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से 2 छात्र और एक शिक्षक ऑनलाइन (online) जुड़े हैं। इसके अलावा देश के 100 एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालयों (EMRS) के बच्चों ने भी इस कार्यक्रम में भाग लिया।

मोदी (PM Modi) ने कहा कि मैंने अभी बच्चों की प्रदर्शनी देखी। वह इतनी अच्छी थी कि मुझे 5-6 घंटे लग जाते। पीएम (PM Modi) ने बच्चों से यह भी कहा कि जिस जगह (भारत मंडपम-प्रगति मैदान) आप लोग बैठे हैं, वहां दुनिया के महान नेताओं ने चर्चा की है। पीएम (PM Modi) ने कहा अगर जीवन में चुनौतियां ना हों तो फिर जीवन बहुत ही चेतनाहीन बन जाएगा, प्रतिस्पर्धा होनी ही चाहिए।

Pariksha Pe Charcha: 'क्या पता वो फिल्म की कहानी लिख रहा हो', PM मोदी ने  बताया कैसे दें परीक्षा; कहां छात्र और टीचर कर रहे गलती - Pariksha Pe  Charcha PM Modi

पीएम (PM Modi) ने कहा घर में नो गैजेट जोन बनाना चाहिए। मोबाइल का इस्तेमाल करें पर एक टाइम निर्धारित कर लें। नियम बनाना चाहिए कि खाना खाते समय डाइनिंग टेबल पर कोई गैजेट नहीं होगा। हालांकि टेक्नोलॉजी (technology) से दूर नहीं भाग सकते लेकिन उसका सही इस्तेमाल करना चाहिए। स्कीन टाइम ऐप को डाउनलोड कर इसका इस्तेमाल करें।

पीएम मोदी (PM Modi) ने कहा- हमें निर्णायक बनने की आदत डालनी चाहिए। कंफ्यूजन नहीं होगी। अनिर्णायकता खतरनाक होती है। पीएम मोदी (PM Modi) ने कहा स्वस्थ रहने के लिए नींद और संतुलित आहार बहुत जरूरी है। अच्छी फिटनेस के लिए एक्सरसाइज (Exercise) जरूरी है। बिना किसी समझौते की तरह टूथब्रश की तरह व्यायाम (Exercise) करना चाहिए। मोबाइल की तरह खुद के शरीर को भी चार्ज करने की जरूरत पड़ती है। स्वस्थ शरीर (healthy body) स्वस्थ मन के लिए बहुत जरूरी है। स्वस्थ नहीं रहेंगे तो 3 घंटे की परीक्षा कैसे देंगे। बॉडी को चार्ज करने के लिए धूप में बैठना जरूरी होता है। कम नींद स्वास्थ्य के लिए अनुचित होती है।

यह भी पढ़ें-RSS मुख्यालय ‘नो ड्रोन’ जोन घोषित; फोटो-वीडियो लेना प्रतिबंधित, ये है वजह

माता-पिता (Parents) को अपने बच्चों को कहना चाहिए कि ये खाकर जाना, वो खाकर जाना, ये पेन लेकर जाना, ये कपड़े पहनकर जाना, ऐसी सलाह न दें। पेरेंट्स (Parents) को उसे उसका दैनिक जीवन जीने देना चाहिए। उसे अपनी मस्ती से रहना चाहिए। परीक्षा हॉल में जाएं और गहरी सांस लें। सीसीटीवी (CCTV) जैसी बेकार चीजों पर ध्यान देने की जरूरत नहीं है। अपने आप में ही खोये रहना चाहिए। परीक्षा (Board Exam 2024) के दौरान छात्र अपने आसपास की दुनिया से बाहर निकल जाते हैं। मां-बाप को बच्चों पर भरोसा करना चाहिए। एक दूसरे से बात करने का तरीका सुधारना चाहिए। मां-बाप और बच्चों की दूरी डिप्रेशन (depression) का कारण बनती है। सामाजिक अनुभव एजुकेशन सिस्टम पर प्रभाव डालता है।

Tag: #nextindiatimes #PMModi #parents #newdelhi

RELATED ARTICLE

close button