17 C
Lucknow
Sunday, March 3, 2024

ममता ने खेला बड़ा दांव, 21 लाख मनरेगा श्रमिकों के बकाया का करेंगी भुगतान

Print Friendly, PDF & Email

कोलकाता। लोकसभा चुनाव (LokSabha election) से पहले बंगाल की सीएम ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने बड़ा दांव खेला है। मनरेगा (MNREGA) का पैसा पाने के लिए केंद्र सरकार के खिलाफ धरने पर बैठीं सीएम ने अब खुद ही 21 लाख मनरेगा श्रमिकों को बकाया वेतन देने का एलान कर दिया है।

यह भी पढ़ें-पंजाब के बाद हरियाणा में भी AAP ने किया बड़ा ऐलान, अकेले लड़ेंगे चुनाव

ममता (Mamata Banerjee) ने कहा कि उनकी सरकार अब केंद्र सरकार की राह नहीं देखेगी और मनरेगा (MNREGA) के श्रमिकों को उनका बकाया वेतन देगी। मनरेगा सहित अन्य केंद्रीय योजनाओं के बकाए फंड के भुगतान की मांग को लेकर ममता (Mamata Banerjee) शुक्रवार से केंद्र सरकार के खिलाफ यहां 48 घंटे के धरने पर बैठीं थी। बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने शनिवार को दूसरे दिन धरना मंच से बड़ी घोषणा की। ममता ने कहा कि मनरेगा (MNREGA) के जिन 21 लाख वंचित मजदूरों का पैसा बकाया है, 21 फरवरी को उसका भुगतान राज्य सरकार करेगी।

मुख्यमंत्री (Mamata Banerjee) ने वादा किया कि 21 फरवरी को उन सभी वंचित श्रमिकों के बैंक खाते में पैसा चला जाएगा। कोलकाता (Kolkata) के रेड रोड पर जारी धरना में शामिल होने विभिन्न जिलों से जुटे बड़ी संख्या में मनरेगा (MNREGA) श्रमिकों व तृणमूल कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए ममता (Mamata Banerjee) ने कहा कि मैं बार-बार केंद्र सरकार से मनरेगा (MNREGA) व अन्य योजनाओं का बकाया पैसा मांग- मांग कर थक गई हूं।

केंद्र सरकार राजनीतिक प्रतिशोध के तहत यह पैसा नहीं देना चाह रही है, लेकिन 21 लाख मजदूरों का पैसा अब राज्य सरकार देगी। ममता (Mamata Banerjee) की इस घोषणा को लोकसभा चुनाव से पहले बड़ा कदम माना जा रहा है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि पीएम ग्रामीण आवास योजना (PM Rural Housing Scheme) के वंचितों के लिए भी राज्य सरकार की तरफ से जल्द बड़ी घोषणा की जाएगी। इसके लिए थोड़े समय की अपेक्षा है।

यह भी पढ़ें-धरने पर बैठीं मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, मोदी सरकार पर लगाए ये गंभीर आरोप

ममता (Mamata Banerjee) ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मैं खुद मनरेगा (MNREGA) मुद्दे को लेकर तीन बार मिल चुकी हूं। कई बार चिट्ठी भी लिख चुकी हूं। लेकिन इसका कोई भी फर्क केंद्र सरकार पर नहीं पड़ा। देश के तमाम राज्यों का मनरेगा (MNREGA) का पैसा दे दिया जा रहा है, लेकिन बंगाल का पैसा नहीं दिया जा रहा है। इसलिए मैंने निर्णय लिया है कि 21 लाख मजदूरों का पैसा मैं उनके बैंक अकाउंट में भेज दूंगी।

Tag: #nextindiatimes #MNREGA #MamataBanerjee #election

RELATED ARTICLE

close button