24 C
Lucknow
Saturday, February 24, 2024

फिर डरा रहा कोरोना, भारत में मिला नया वेरिएंट, अचानक बढ़े मरीज

Print Friendly, PDF & Email

नई दिल्ली। पूरी दुनिया में कोहराम मचाने वाली कोरोना (Corona) महामारी अभी भी हमारा पीछा नहीं छोड़ रही है। बीते कुछ समय से दुनिया भर में भले ही इसके मामलों में कुछ कमी देखने तो मिल रही है, लेकिन इसका खतरा अभी तक टला नहीं है। बीच-बीच मे कई बार इस वायरस (virus) के विभिन्न वेरिएंट्स (Corona) ने लोगों की चिंता बढ़ाई है।

यह भी पढ़ें-राजस्थान में एक्शन में भजनलाल सरकार, पहले दिन ही लिए 4 बड़े फैसले

इसी बीच अब एक बार फिर इसे (Corona) लेकर लोगों की चिंता बढ़ गई है। दरअसल, चीन जहां से इस महामारी की शुरुआत हुई थी, वहां अब कोरोना के एक नए सबवेरिएंट जेएन.1 (JN.1) के मामले आए हैं। कोरोना के इस नए सबवेरिएंट (subvariant) की पहचान सबसे पहले लक्जमबर्ग में की गई थी, जिसके बाद यूके, आइसलैंड, फ्रांस और अमेरिका में भी इसके मामले सामने आने लगे। इतना ही नहीं खुद भारत में भी कोरोना के इस Corona सबवेरिएंट का एक मामला सामने आया है।

भारत में मिला कोरोना का नया वेरिएंट AY.1, फिर से बढ़ी चिंता - News AajTak

बीते दिनों केरल में इस नए सबवेरिएंट जेएन.1 की पुष्टि की गई है। इस मामले के सामने आते ही अब सभी की चिंताएं एक बार फिर बढ़ गई है।बता दें भारत में (Corona) सक्रिय मामलों की संख्या 938 तक पहुंच गई है, जिसमें केरल में सबसे अधिक 768 नए मरीज मिले हैं। नया वेरिएंट पहली बार अगस्त 2023 में यूरोप में पाया गया था। लक्ज़मबर्ग में नए वेरिएंट का पहला मामला दर्ज किया, उसके बाद इंग्लैंड, आइसलैंड, फ्रांस से होते हुए यह अमेरिका पहुंचा और अब भारत में इसके मामले मिले हैं। अमेरिका (Scientists) में वैज्ञानिकों ने जेएन.1 (JN.1) वेरिएंट को काफी खतरनाक बताया है क्योंकि इस पर वैक्सीन का भी कोई असर नहीं पड़ता है।

Tag: #nextindiatimes #Corona #subvariant #virus

RELATED ARTICLE

close button