22 C
Lucknow
Sunday, March 3, 2024

चंपई सरकार की आज अग्निपरीक्षा, विधानसभा में साबित करना होगा बहुमत

Print Friendly, PDF & Email

रांची। झारखंड (Jharkhand) के सियासी रण का आज बड़ा दिन है। विधानसभा में आज चंपई सोरेन (Champai Soren) सरकार के विश्वास मत पर वोटिंग होगी। सुबह 11 बजे सबसे पहले राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन का संबोधन होगा। इसके बाद मुख्यमंत्री चंपई सोरेन (Champai Soren) बहुमत साबित करने के लिए विश्वास प्रस्ताव लाएंगे।

यह भी पढ़ें-चंपई सोरेन बने झारखंड के नए मुख्यमंत्री, दो मंत्रियों ने भी ली शपथ

विश्वास मत में पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant Soren) भी वोट करेंगे। इसके लिए उन्हें प्रवर्तन निदेशालय (ED) कोर्ट से इजाजत मिल गई है। कांग्रेस (Congress) और झारखंड मुक्ति मोर्चा ने अपने विधायकों के लिए अलग-अलग व्हिप जारी किया है। 81 सदस्यीय झारखंड विधानसभा में बहुमत के लिए कुल 41 सीटों का समर्थन जरूरी है। चंपई (Champai Soren) ने 43 विधायकों का हस्ताक्षरित समर्थन पत्र राज्यपाल को सौंपा है।

इससे पहले 31 जनवरी को ईडी ने जमीन घोटाला मामले में तत्कालीन मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant Soren) को पूछताछ के बाद हिरासत में लिया था। हेमंत (Hemant Soren) के इस्तीफे के बाद चंपई सोरेन (Champai Soren) ने 2 फरवरी को झारखंड के 12वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली। इसके बाद महागठबंधन (जेएमएम, कांग्रेस) के विधायकों को चार्टर्ड प्लेन से हैदराबाद भेजा गया। सत्ता पक्ष के विधायक रविवार रात हैदराबाद से रांची पहुंच गये हैं। आज होने वाले फ्लोर टेस्ट में सभी विधायक हिस्सा लेंगे।

फ्लोर टेस्ट से पहले झारखंड मुक्ति मोर्चा के कथित नाराज विधायक लोबिन हेम्ब्रम (Lobin Hembram) ने चंपई सोरेन (Champai Soren) सरकार को समर्थन देने का ऐलान किया है। दो निर्दलीय विधायकों ने इस सरकार को समर्थन देने से इनकार कर दिया है। इनमें से एक हैं पूर्वी सिंहभूम जिले के जमशेदपुर (पूर्वी) से निर्दलीय विधायक सरयू राय और दूसरे हैं हजारीबाग जिले के बरकट्ठा से निर्दलीय विधायक अमित कुमार यादव।

Tag: #nextindiatimes #ChampaiSoren #ED

RELATED ARTICLE

close button