23 C
Lucknow
Tuesday, March 5, 2024

नहीं थम रहे स्वामी प्रसाद मौर्य के विवादित बोल, सपा ने किया किनारा

Print Friendly, PDF & Email

नई दिल्ली। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) अक्सर हिंदू और सनातन (Hindu) विरोधी बयानों से विवादों में घिर जाते हैं। एक बार फिर स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) ने हिंदू धर्म के खिलाफ जहर उगला है।

यह भी पढ़ें-जानें, अटल बिहारी वाजपेई से जुड़ी कुछ अनसुनी जानकारियां

सपा नेता (Swami Prasad Maurya) ने दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम में कहा,”हिंदू एक धोखा है। वेसै भी 1995 में सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि हिंदू कोई धर्म नहीं है, यह जीवन जीने की एक शैली है। RSS प्रमुख मोहन भागवत ने भी दो बार कहा है कि चुके हैं कि हिंदू (Hindu) नाम का कोई धर्म नहीं है, बल्कि यह जीवन जीने की एक कला है।”

उन्होंने आगे कहा,”प्रधानमंत्री मोदी ने भी कहा है कि हिंदू धर्म कोई धर्म नहीं है। वहीं, दो महीने पहले गडकरी जी ने भी कहा, लेकिन इन लोगों के कहने से किसी की भावना आहत नहीं होती है, लेकिन स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) कह देते हैं हिंदू (Hindu) कोई धर्म नहीं है बल्कि धोखा है और जिसे हम हिंदू धर्म कहते हैं तो यह कुछ लोगों के लिए धंधा। जब ये बात मैं कहता हूं तो लोगों की भावना आहत हो जाती है, लेकिन जब ये बात पीएम मोदी (PM Modi) और मोहन भागवत कहते हैं तो किसी की भावना आहत नहीं होती है।”

स्वामी प्रसाद मौर्य बोले- मेरे इस्तीफे से BJP में 'भूचाल', मुझे बुलाया जा  रहा लेकिन अब वापस नहीं लौटूंगा

बता दें कि सोमवार (25 दिसंबर) को समाजवादी पार्टी की महा ब्राह्मण समाज पंचायत में अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने हिस्सा लिया था। इस पंचायत में ब्राह्मण समाज ने मौर्य के विवादित बयानों का मुद्दा उठाया है। ब्राह्मण नेताओं ने किसी का नाम लिए बगैर अखिलेश यादव के सामने स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) की शिकायत की। वहीं, अखिलेश यादव ने भी माना कि किसी धर्म या जाति विशेष पर किसी प्रकार की टिप्पणी करना उचित नहीं है।

Tag: #nextindiatimes #SwamiPrasadMaurya #AkhileshYadav #hindu

RELATED ARTICLE

close button