22 C
Lucknow
Sunday, March 3, 2024

रेस्क्यू किए गए श्रमिकों को मिलेगी एक-एक लाख की मदद

Print Friendly, PDF & Email

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि सिलक्यारा सुरंग में फंसे श्रमिकों सभी श्रमिकों को सरकार एक एक लाख रुपये की आर्थिक सहायता देगी। इसके लिए अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा अस्पताल में इलाज और घर जाने तक की पूरी व्यवस्था की जाएगी।

यह भी पढ़ें-41 जिंदगियों को मिली जान, तस्वीरों में देखें रेस्क्यू ऑपरेशन की पूरी कहानी

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सिलक्यारा में कहा कि सुरंग में फंसे सभी श्रमिकों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अस्पताल में इलाज पर होने वाला खर्चा सरकार उठाएगी। इनके अलावा परिजनों और श्रमिकों के खाने, रहने की भी व्यवस्था सरकार कर रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि श्रमिकों के स्वस्थ होने पर सरकार की तरफ से एक एक लाख रुपये के चेक बतौर आर्थिक सहायता के रूप में दिए जाएंगे। इसके अलावा घर जाने तक का पूरा खर्चा भी सरकार वहन करेगी।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि बाबा बौखनाग और देवभूमि के देवी-देवताओं की कृपा से ऑपरेशन सफल हुआ है। कहा कि बौखनाग देवता का सिलक्यारा में भव्य मंदिर बनाया जाएगा। इसके लिए अधिकारियों को जरूरी निर्देश दिए गए हैं। उधर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सुरंग से बाहर आए मजदूरों से फोन पर बात कर उनका हालचाल जाना। पीएम लगातार रेस्क्यू ऑपरेशन पर नजर बनाए हुए थे। पीएम ने उनके हौसले को खूब सराहा।

मजदूरों को सुरंग से बाहर निकालने में रैट माइनर्स हीरो बनकर उभरे हैं। उन्होंने मैनुअली सुरंग की खुदाई कर फतह हासिल की। मजदूरों और रेस्क्यू टीम के बीच सिर्फ 60 मीटर की दूरी थी। रैट माइनर्स ने 21 घंटे काम करके 58 मीटर की मैनुअल ड्रिलिंग पहले ही कर ली थी, मंगलवार को 2 मीटर की मैनुअल ड्रिलिंग को भी पूरा कर लिया गया।

Tag: #nextindiatimes #tunnelaccident #rescue #rescueoperation

 

 

 

 

 

RELATED ARTICLE

close button