18 C
Lucknow
Sunday, March 3, 2024

PM मोदी ने प्राण प्रतिष्ठा से पहले शुरू किया 11 दिनों का विशेष अनुष्ठान, जानें इसका महत्व

Print Friendly, PDF & Email

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने शुक्रवार को राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा से पहले एक ऑडियो मैसेज जारी किया है। अयोध्या (Ayodhya) में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के लिए सिर्फ 11 दिन बचे हैं। इसको लेकर पीएम मोदी (PM Modi) ने 22 जनवरी को राम मंदिर (Ram temple) की प्राण प्रतिष्ठा समारोह से पहले 11 दिन का व्रत अनुष्ठान शुरू किया है।

यह भी पढ़ें-PM मोदी आज देश को समर्पित करेंगे सबसे लंबा समुद्री पुल, जानें अटल सेतु की खास बातें

उन्होंने (PM Modi) अपने ‘एक्स’ हैंडल पर 10 मिनट 50 सेकेंड का ऑडियो संदेश शेयर किया है। जिसमें उन्होंने लिखा है, “प्राण-प्रतिष्ठा से पूर्व 11 दिवसीय व्रत अनुष्ठान का पालन मेरा सौभाग्य है। मैं देश-विदेश से मिल रहे आशीर्वाद से अभिभूत हूं।” पीएम मोदी (PM Modi) ने ऑडियो संदेश की शुरुआत में कहा, “जीवन के कुछ क्षण ईश्वरीय आशीर्वाद की वजह से ही यथार्थ में बदलते हैं। आज हम सभी भारतीयों के लिए, दुनिया भर में फैले रामभक्तों (Lord Shri Ram) के लिए ऐसा ही पवित्र अवसर है। हर तरफ प्रभु श्रीराम की भक्ति का अद्भुत वातावरण है। चारों दिशााओं में राम नाम की धुन, राम भजनों की की अद्भुत सौंदर्य माधुरी, हर किसी को इंतजार है 22 जनवरी का। उस ऐतिहासिक पवित्र पल का…और अब अयोध्या (Ayodhya) में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा में केवल 11 दिन ही बचे हैं।”

PM मोदी ने नासिक के कालाराम मंदिर से शुरू किया 11 दिन का विशेष अनुष्ठान, अयोध्या प्राण प्रतिष्ठा तक जारी रहेगा - PM Modi started 11 days special ritual from Kalaram temple

उन्होंने संदेश में कहा, “मेरा सौभाग्य है कि मुझे भी इस पुण्य अवसर का साक्षी बनने का अवसर मिल रहा है। ये मेरे लिए कल्पनातीत अनुभूतियों का समय है। मैं भावुक हूं, भाव-विह्वल हूं! मैं पहली बार जीवन में इस तरह के मनोभाव से गुजर रहा हूं, मैं एक अलग ही भाव-भक्ति की अनुभूति कर रहा हूं। मेरे अंतर्मन की ये भाव-यात्रा, मेरे लिए अभिव्यक्ति का नहीं, अनुभूति का अवसर है। चाहते हुए भी मैं इसकी गहनता, व्यापकता और तीव्रता को शब्दों में बांध नहीं पा रहा हूं। आप भी मेरी स्थिति भली भांति समझ सकते हैं।”

प्रधानमंत्री (PM Modi) ने अपने संदेश में कहा है कि इस पवित्र अवसर पर मैं परमात्मा (Lord Shri Ram) के श्रीचरणों में प्रार्थना करता हूं। ऋषियों, मुनियों, तपस्वियों का पुण्य स्मरण करता हूं और जनता-जनार्दन, जो ईश्वर का रूप है, उनसे प्रार्थना करता हूं कि आप मुझे आशीर्वाद दें, ताकि मन से, वचन से, कर्म से, मेरी तरफ से कोई कमी ना रहे। हिंदू धर्म में अनुष्ठान का विशेष महत्व है। जिसका पालन अनादि काल से किया जा रहा है। अनुष्ठान विभिन्न तरह के होते हैं। छठी अनुष्ठान, अन्नप्राशन, मुंडन, श्राद्ध से लेकर देवी-देवता की प्राण प्रतिष्ठा का भी अनुष्ठान किया जाता है।

Tag: #nextindiatimes #PMModi #lordram #ayodhya

RELATED ARTICLE

close button