22 C
Lucknow
Sunday, March 3, 2024

किसान आंदोलन: DSP समेत पांच पुलिसकर्मी घायल, कई प्रदर्शनकारी अरेस्ट

Print Friendly, PDF & Email

दिल्ली। पंजाब (Punjab) के किसान (Farmers) स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करने, एमएसपी पर गारंटी, लखीमपुर खीरी हादसे पर सख्त कार्रवाई करने जैसी कई मांगों पर अड़े हैं। उन्हें दिल्ली पहुंचने से रोकने के लिए हरियाणा (Haryana) में सुरक्षा के काफी कड़े इंतजाम किये गए थे लेकिन उग्र प्रदर्शनकारियों (Farmers) के चलते सीमा पर बवाल मच गया।

यह भी पढ़ें-किसान आंदोलन को लेकर यूपी के बॉर्डर पर भी पहरा सख्त

किसानों (Farmers) के दिल्ली कूच के दौरान मंगलवार को कुरुक्षेत्र में किसानों (Farmers) ने ट्रैक्टरों से सड़क पर लगाए बैरिकेड हटा दिए। शंभू बॉर्डर (Shambhu border) पर पुल के दोनों तरफ लगाई लोहे की रेलिंग को किसानों (Farmers) ने तोड़ दिया है। आंसू गैस के कारण कुछ लोगों को चोटें आई हैं। वहीं शम्भू बॉर्डर (Shambhu border) पर सबसे आगे तैनात अंबाला नारायणगढ़ डीएसपी समेत पांच पुलिस कर्मी भी घायल हुए हैं। सभी को सिटी सिविल अस्पताल (City Civil Hospital) में दाखिल करवाया गया है।

अपनी विभिन्न मांगों को लेकर दिल्ली की ओर किसानों के आंदोलन के दौरान अराजकता फैलने पर हरियाणा पुलिस ने शंभू सीमा (Shambhu border) पर प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया गया है। पंजाब किसान मजदूर संघर्ष समिति के महासचिव सरवन सिंह पंढेर ने कहा कि लगभग 10,000 लोग यहां शंभू सीमा (Shambhu border) पर हैं। किसान (Farmers) यहां शांतिपूर्ण स्थिति बनाए हुए हैं और ड्रोन के जरिए हमारे खिलाफ आंसू गैस (tear gas) का इस्तेमाल किया जा रहा है लेकिन यह विरोध तब तक जारी रहेगा सरकार हमारी मांगों से सहमत है।

पंजाब किसान मजदूर संघर्ष समिति के महासचिव सरवन सिंह पंधेर ने कहा कि लगभग 10,000 लोग यहां शंभू सीमा पर पहुंचे हुए हैं, किसान (Farmers) यहां शांतिपूर्ण स्थिति बनाए हुए हैं, ड्रोन के जरिए हमारे खिलाफ आंसू गैस (tear gas) का इस्तेमाल किया जा रहा है। विरोध तब तक जारी रहेगा जब तक सरकार हमारी मांगों को नहीं मानती।

Tag: #nextindiatimes #Farmers #protest #teargas

RELATED ARTICLE

close button