21 C
Lucknow
Sunday, March 3, 2024

तेजी से बढ़ रहे कोरोना के नए वेरिएंट के मामले, इतना पहुंचा पॉजिटिव केसों का आंकड़ा

Print Friendly, PDF & Email

नई दिल्ली। देश में एक बार फिर से कोरोना (Corona) लौट आया है। इससे जुड़ी ताजा खबर ये है कि पिछले 24 घंटे में (Corona) एक्टिव केस की संख्या एक बार फिर बढ़ी है। देश में अब एक्टिव केस 2997 हो चुके हैं और पिछले 24 घंटों में 328 नए केस मिले हैं। सबसे ज्यादा 265 (Corona) केस केरल (Kerala) में दर्ज हुए हैं।

यह भी पढ़ें-लखनऊ में भी कोरोना ने दी दस्तक, महिला मिली पॉजिटिव

कोरोना (Corona) के नए वेरिएंट (Coronavirus New Variant) के हिसाब से फिलहाल कोरोना के 3000 एक्टिव केस हैं। यानी इतने लोग कोरोना का इलाज करा रहे हैं। एक्टिव मरीजों के सबसे ज्यादा मामले 4 राज्यों से आए हैं। कोरोना (Corona) वायरस के J.1 वेरिएंट पर बढ़ती चिंताओं के बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की पूर्व मुख्य वैज्ञानिक डॉ. सौम्या स्वामीनाथन ने जनता को आश्वस्त किया है कि अभी घबराने की कोई जरूरत नहीं है। स्वामीनाथन ने इस तथ्य की ओर इशारा किया कि संयुक्त राष्ट्र स्वास्थ्य एजेंसी ने तनाव को रुचि के प्रकार के रूप में वर्गीकृत किया है, चिंता के प्रकार के रूप में नहीं।

कुछ राज्यों में COVID-19 वेरिएंट JN.1 के नए मामले पाए जाने के बाद दून मेडिकल कॉलेज के सरकारी अस्पताल में आइसोलेशन वार्ड और अन्य व्यवस्थाएं कड़ी कर दी गई हैं। दून अस्पताल के सीएमएस अनुराग अग्रवाल ने कहा, “नवीनतम सलाह के अनुसार, हमें घबराने की जरूरत नहीं है। फिलहाल एकमात्र आवश्यकता यह है कि फ्लू का पता चलते ही तुरंत जांच कराएं। हम नए (Corona) वेरिएंट के लिए टेस्टिंग बढ़ाएंगे और पोर्टल पर मरीजों की संख्या भी अपडेट करते रहेंगे…कोविड-19 के लिए 20 बेड का ऑक्सीजन वार्ड तैयार किया गया है।

देशभर में बढ़ी कोरोना की रफ्तार, 24 घंटे में सामने आए 10 हजार से ज्यादा नए  केस, 23 लोगों की मौत - Corona cases increased across country more than 10  thousand new

स्वास्थ्य मंत्रालय (Health ministry) से मिली जानकारी के मुताबिक हालांकि जिन मरीजों की कोरोना (Corona) संक्रमित होने के बाद मौत हुई है वो पहले से किसी गंभीर बीमारी से जूझ रहे थे। WHO के पूर्व वैज्ञानिक सौम्या स्वामीनाथन का मानना है कि इस नए वेरियंट से फिलहाल कोई बड़ा खतरा नहीं। भारत में लगभग हर व्यक्ति को वैक्सीन लग चुकी है। ये वेरियंट ओमिक्रॉन की तरह ही है। लिहाजा इससे डरने की जरूरत नहीं है।

Tag: #nextindiatimes #Corona #WHO #COVID19

RELATED ARTICLE

close button