17 C
Lucknow
Sunday, March 3, 2024

भीमराव आंबेडकर की पुण्यतिथि आज, बसपा सुप्रीमो मायावती ने दी पुष्पांजलि

Print Friendly, PDF & Email

लखनऊ। भारत को अपना संविधान देने वाले बाबा साहेब अंबेडकर (Bhimrao Ambedkar) की आज पुण्यतिथि है। लखनऊ में बीएसपी सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने बाबा साहब डॉ. भीमराव आंबेडकर के परिनिर्वाण दिवस पर उन्हें पुष्पांजलि अर्पित करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी।

यह भी पढ़ें- सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या के बाद विरोध-प्रदर्शन तेज, बाजार बंद

इस मौके पर उन्होंने सोशल मीडिया साइट पर कहा कि लगभग 140 करोड़ की विशाल आबादी वाले भारत के गरीबों, मजदूरों, दलितों, आदिवासियों, अतिपिछड़ों सहित उपेक्षित बहुजनों के मसीहा व देश के मानवतावादी समतामूलक संविधान के निर्माता भारतरत्न परमपूज्य बाबा साहेब डा. भीमराव आंबेडकर (Bhimrao Ambedkar) को आज उनके परिनिर्वाण दिवस पर अपार श्रद्धा-सुमन अर्पित।

उन्होंने आगे कहा कि किन्तु देश के 81 करोड़ से अधिक गरीब लोगों को पेट पालने के लिए सरकारी अन्न के मोहताज का जीवन बना देने जैसी दुर्दशा न यह आजादी का सपना था और न ही उनके लिए कल्याणकारी संविधान बनाते समय बाबा साहेब डा. भीमराव आंबेडकर (Bhimrao Ambedkar) ने सोचा था, यह स्थिति अति-दुःखद है।

भारत के बाहर अंबेडकर की सबसे ऊंची प्रतिमा का अमेरिका में अनावरण किया गया

देश में रोटी-रोजी के अभाव एवं महंगाई की मार के कारण आमदनी अठन्नी भी नहीं पर खर्चा रुपया होने के कारण गरीब, मजदूर, छोटे व्यापारी, किसान, मध्यम वर्ग सहित सभी मेहनतकश समाज की हालत त्रस्त व चिन्तनीय है जबकि संविधान को सही से लागू करके उनकी हालत अब तक काफी संवर जानी चाहिए थी।

यह भी पढ़ें-भीमराव अम्बेडकर की जीवनी और उनके द्वारा चलाये गये आंदोलन और संविधान।

इस बीच, राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी, उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और अन्य सांसदों ने भी आज संसद परिसर में Dr. BR Ambedkar की प्रतिमा पर संविधान निर्माता को श्रद्धांजलि अर्पित की। इससे पहले, अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर पीएम ने लिखा, पूज्य बाबा साहेब भारतीय संविधान के निर्माता होने के साथ-साथ सामाजिक समरसता के अमर समर्थक थे, जिन्होंने अपना जीवन शोषितों और गरीबों के कल्याण के लिए समर्पित कर दिया। आज उनके महापरिनिर्वाण दिवस पर उन्हें मेरी सादर श्रद्धांजलि।

Tag: #nextindiatimes #BhimraoAmbedkar #mayawati

RELATED ARTICLE

close button