24 C
Lucknow
Saturday, February 24, 2024

राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा से पहले असदुद्दीन ओवैसी ने दिया भड़काऊ बयान

Print Friendly, PDF & Email

हैदराबाद। अयोध्या (Ayodhya) राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा का दिन काफी नजदीक है। इसी बीच, ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने मुस्लिम समुदाय के युवाओं से अपील की है। उनके इस बयान पर अब भाजपा (BJP) ने भी पलटवार किया है।

यह भी पढ़ें-नए सड़क कानून के विरोध में चक्का जाम, कई राज्यों में दिखा असर

दरअसल, एक कार्यक्रम के दौरान (Asaduddin Owaisi) उन्होंने युवाओं से कहा कि भाजपा (BJP) के नेतृत्व वाले केंद्र द्वारा की जा रही गतिविधियों से सावधान रहना होगा और मस्जिद देश में आबाद रहना चाहिए। ओवैसी ने यह वीडियो अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर पोस्ट की है। बाबरी मस्जिद को लेकर असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने कहा कि जिस जगह पर पिछले 500 सालों से पवित्र कुरान पढ़ी जाती थी, वह जगह अब उनके हाथ में नहीं है। औवेसी ने भवानी नगर में एक कार्यक्रम में कहा, “युवाओं, मैं आपको बता रहा हूं, हमने अपनी मस्जिद खो दी है और आप देख रहे हैं कि वहां क्या किया जा रहा है। क्या आपको दर्द नहीं हो रहा है?”

नौजवानो, हमारी मस्जिद हमने खो दी, अब वहां...', राम मंदिर उद्घाटन से पहले ओवैसी का बयान - Asaduddin Owaisi provocative speech regarding Ram Temple goes viral on Social Media ntc - AajTak

उन्होंने (Asaduddin Owaisi) कहा, “जिस स्थान पर हमने बैठकर 500 वर्षों तक कुरान पढ़ा, वह आज हमारे हाथ में नहीं है। युवाओं, क्या आपको नहीं दिख रहा है कि तीन-चार और मस्जिदों को लेकर साजिश हो रही है, जिसमें सुनहरी मस्जिद (गोल्डन मस्जिद) है। इसमें दिल्ली का मस्जिद भी शामिल है? वर्षों की कड़ी मेहनत के बाद आज हमने अपना मुकाम हासिल किया है। आपको इन चीजों पर ध्यान देना होगा।” AIMIM प्रमुख (Asaduddin Owaisi) ने कहा कि युवा मुसलमानों को सतर्क और एकजुट रहना होगा।

बीजेपी (BJP) नेता अमित मालवीय ने इस बयान को लेकर असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि हैदराबाद के सांसद वही कर रहे हैं, जिसमें वो बेस्ट हैं, जो राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा को सांप्रदायिक रंग देना है। मालवीय ने लिखा, “2020 में हैदराबाद में 2 मस्जिदें (मस्जिद-ए-मोहम्मदी और मस्जिद-ए-हाशमी) सचिवालय बनाने के लिए ढहा दी गईं। ओवैसी (Asaduddin Owaisi) इस शहर से लोकसभा के सदस्य हैं और उन्होंने इस पर कुछ नहीं कहा। आखिर तब मस्जिदों की याद नहीं आई?”

Tag: #nextindiatimes #AIMIM #AsaduddinOwaisi #BJP

RELATED ARTICLE

close button