23 C
Lucknow
Tuesday, March 5, 2024

चीन के नए वायरस से अमेरिका भी सतर्क, US-चीन के बीच यात्रा प्रतिबंध लगाने की उठी मांग

Print Friendly, PDF & Email

अमेरिका। चीन में इन दिनों तेजी से एक रहस्यमयी बीमारी फैल रही है, जिसको लेकर कई देश काफी परेशान नजर आ रहे हैं। अमेरिकी सीनेटरों ने राष्ट्रपति जो बाइडन से मांग की है कि चीन और अमेरिका के बीच यात्रा पर प्रतिबंध लगा देना चाहिए। दरअसल चीन में फैल रही रहस्यमयी बीमारी के कारण इस आग्रह के साथ पत्र लिखा गया है।

यह भी पढ़ें- हमास के ठिकानों पर ताबड़तोड़ हवाई हमले कर रहा इजरायल, 32 फलस्तीनियों की मौत

उन्होंने कहा कि जब तक चीन नई बीमारी के खतरों के बारे में ज्यादा जानकारी हासिल न कर ले तब तक हमें तुरंत अमेरिका-चीन के बीच यात्रा को प्रतिबंधित करना चाहिए। इधर भारत में भी मध्य प्रदेश में विदेश से आने वाले अंतरराष्ट्रीय यात्रियों का रैंडम आरटीपीसीआर टेस्ट करने का भी आदेश जारी कर दिया गया है। चीन में बच्चों में फैल रही सांस लेने की बीमारी के चलते यह फैसला लिया गया है। इसे लेकर सीएमएचओ ने एडवाइजरी जारी की है। जिसके तहत अब ​अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की निगरानी कोविड-19 जैसे प्रोटोकॉल की तरह होगी।

उधर उत्तराखंड के बागेश्वर में दो बच्चों में इन्फ्लूएंजा जैसे लक्षण पाए गए हैं। इसको लेकर बच्चों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। भारत सरकार ने शुरुआती कदम उठाते हुए राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को एडवाइजरी जारी की है। इसके साथ ही केंद्र सरकार ने पब्लिक हेल्थ सिस्टम को अपडेट रहने को कहा है ताकि हर आपातकालीन स्थिति से निपटा जा सके। इसी बीच, अमेरिकी सीनेटरों ने राष्ट्रपति जो बाइडन से यूएस-चीन के बीच यात्रा प्रतिबंध लगाने की मांग की है।

चीन में फैल रही इस बीमारी के लक्षण निमोनिया जैसे ही हैं। ये बीमारी खासतौर पर बच्चों को अपना शिकार बना रही है। बच्चों को बुखार, खांसी और सांस लेने में परेशानी हो रही है। चीन में फैल रही इस बीमारी को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) भी एक्शन में आ गया है। WHO ने इसे लेकर चिंता जताई है और चीन से जानकारी मांगी है।

Tag: #nextindiatimes #WHO #america #china #virus

RELATED ARTICLE

close button