24 C
Lucknow
Saturday, February 24, 2024

दबोचे गए सुखदेव सिंह हत्याकांड के 3 आरोपी, पुलिस ने ऐसे बिछाया था जाल

Print Friendly, PDF & Email

जयपुर। राजस्थान में बहुचर्चित श्री राजपूत करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी (Sukhdev Singh Gogamedi) की दिनदहाड़े हत्या के मामले में पुलिस ने आखिर बड़ी सफलता हासिल कर ली। पुलिस ने राजपूत समाज के 72 घंटे के अल्टीमेटम के अनुसार दोनों शूटर (shooters) नितिन फौजी और रोहित राठौर को चंडीगढ़ से दबोच लिया गया।

यह भी पढ़ें-टॉपर घोटाला माफिया बच्चा राय भी निकला धनकुबेर, मिले 3 करोड़ नगद, गिनती जारी

इस (Sukhdev Singh Gogamedi) मिशन की कामयाबी में राजस्थान के सिंघम नाम से मशहूर एडीजी क्राइम दिनेश (ADG Dinesh) एमएन और जयपुर पुलिस कमिश्नर बीजू जार्ज जोसफ की महत्वपूर्ण भागीदारी रही। दोनों शूटर (shooters) शराब के ठेके पर बने कमरे में छिपे थे। लेकिन पुलिस इन्हें तलाश करती हुई इन तक पहुंच गई और 5-5 लाख रुपए के इनामी दोनों शूटर को दबोच लिया।

गोगामेड़ी हत्याकांड (Sukhdev Singh Gogamedi) ने राजस्थान में बवाल मचा दिया था। इसके बाद पुलिस ने इस हत्याकांड के खुलासे के लिए राजस्थान के सिंघम ADG दिनेश एमएन को इस मिशन की जिम्मेदारी सौंपी। ADG दिनेश (ADG Dinesh) अपराधियों को उनके बिलों से ढूंढ कर निकालने के लिए मशहूर है। इस दौरान राजपूत समाज ने 72 घंटे का अल्टीमेटम दिया था। एडीजी क्राइम दिनेश एमएन इस पर खरे भी उतरे। उन्होंने अपने सिंघम नाम को सार्थक करते हुए दोनों आरोपियों को चंडीगढ़ से दबोचने में सहायता की।

गोगामेड़ी हत्याकांड:रोहित राठौड़ और नितिन फौजी समेत तीन आरोपी पकड़े गए,  चंडीगढ़ से लाए गए दिल्ली - Sukhdev Singh Gogamedi Murder Case: Three In  Custody Including Main ...

ADG दिनेश (ADG Dinesh) ने कहा कि इस हत्याकांड में लॉरेंस गैंग (Lawrence Gang) के गुर्गे शामिल होने और दूसरे प्रदेशों में मूवमेंट होने के कारण SIT का गठन किया गया था। दूसरे राज्यों के अधिकारियों से संपर्क कर बदमाशों की जानकारी साझा की गई। और इसके बाद बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया गया।

गोगामेड़ी हत्याकांड के दोनों शूटर (shooters) को दबोचने में जयपुर के पुलिस कमिश्नर बीजू जार्ज जोसेफ की भी महत्वपूर्ण भागीदारी रही हैं। उन्होंने कहा कि राजपूत समाज ने बंद का ऐलान किया था। इस दौरान समाज ने पुलिस को 72 घंटे का अल्टीमेटम दिया। ऐसे में कानून व्यवस्था बनाने के साथ-साथ हर घंटे SIT की टीमों से संपर्क करके दिशा निर्देश दिए गए। इस दौरान दूसरे राज्यों की मदद से आरोपियों को दबोच लिया गया है।

Tag: #nextindiatimes #SukhdevSinghGogamedi #shooters

RELATED ARTICLE

close button