18 C
Lucknow
Tuesday, March 5, 2024

आज पारित हो सकता है UCC विधेयक, नए बिल पर भड़के मुस्लिम संगठन

Print Friendly, PDF & Email

उत्तराखंड। UCC Bill आज विधानसभा के विस्तारित सत्र में पारित किया जा सकता है। सदन की कार्यवाही में शामिल होने के लिए उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी (Pushkar Singh Dhami) राज्य विधानसभा पहुंच गए हैं। आज इस (UCC) विधेयक पर सदन में चर्चा की जाएगी। चर्चा के साथ ही इस विधेयक को आज सदन में पारित किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें-उत्तराखंड विधानसभा में UCC विधेयक हुआ पेश, लगे ‘जय श्री राम’ के नारे

आपको बता दें मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मंगलवार को सदन में समान नागरिक संहिता विधेयक प्रस्तुत किया था। इस पर चर्चा जारी है। बुधवार को चर्चा पूरी होने के बाद यह (UCC) विधेयक पारित होगा। आंदोलनकारी आरक्षण विधेयक (reservation bill) पर भी बुधवार को चर्चा होगी और फिर इसे पारित किया जाएगा।

वहीं दूसरी तरफ उत्तराखंड विधानसभा में पेश समान नागरिक संहिता (UCC) विधेयक पर जमीयत उलेमा-ए-हिंद और ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (Muslim Personal Law Board) जैसे मुस्लिम संगठनों ने सवाल उठाया है। जमीयत प्रमुख मौलाना अरशद मदनी (Arshad Madani) ने इस बिल को भेदभावपूर्ण करार देते हुए सवाल किया कि अगर अनुसूचित जनजाति यानी आदिवासियों को इस (UCC) विधेयक के दायरे से बाहर रखा जा सकता है तो फिर मुस्लिम समुदाय को छूट क्यों नहीं मिल सकती। उन्होंने यह भी कहा कि मुस्लिम समुदाय को ऐसा कोई कानून स्वीकार्य नहीं है, जो शरीयत के खिलाफ हो।

मदनी ने सवाल किया, ‘अगर संविधान के एक अनुच्छेद के तहत अनुसूचित जनजातियों को इस (UCC) कानून से अलग रखा जा सकता है, तो हमें संविधान के अनुच्छेद 25 और 26 के तहत धार्मिक आज़ादी क्यों नहीं दी जा सकती?’ उन्होंने कहा है कि संविधान (Constitution) के अनुच्छेद 25 और 26 के तहत नागरिकों के मौलिक अधिकारों को मान्यता देकर धार्मिक स्वतंत्रता की गारंटी दी गई है।

Tag: #nextindiatimes #UCC #Constitution

RELATED ARTICLE

close button