20 C
Lucknow
Thursday, February 22, 2024

संसद में सेंध मामले में दो और आरोपी गिरफ्तार, हो सकते हैं नए खुलासे

Print Friendly, PDF & Email

नई दिल्ली। संसद सुरक्षा (Parliament security) में सेंध लगाने के मामले में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने 2 लोगों को हिरासत में लिया है। इनका नाम महेश और कैलाश है और उन पर आरोपियों से संबंध होने का शक है। दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की स्पेशल सेल उनसे पूछताछ कर रही है।

यह भी पढ़ें-राजस्थान में आज CM पद की शपथ लेंगे भजनलाल शर्मा, कई दिग्गज होंगे शामिल

स्पेशल सेल (special cell) की काउंटर इंटेलिजेंस यूनिट इन दोनों लोगों से पूछताछ कर रही है। हिरासत में लिए गए दोनों शख्त के नाम महेश और कैलाश हैं। महेश राजस्थान का रहने वाला है। ये भी भगत सिंह संगठन से जुड़ा हुआ है। महेश भी संसद में हंगामा (Parliament security) करने के मकसद से आने वाला था लेकिन किसी कारणवश नहीं आया था।

दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की जांच में खुलासा हुआ है कि संसद में सेंधमारी (Parliament security) की घटना को अंजाम देने में महेश नाम का शख्स भी शामिल था। आरोपी ललित झा ने महेश के साथ थाने में सरेंडर किया है। जो साज़िश रची गई उसमें ललित झा और महेश का बड़ा रोल था। महेश राजस्थान के नागौर जिले का रहने वाला है जो कि मजदूरी करता है। महेश की कई बार आरोपी महिला नीलम से भी बात होती थी। इन सबकी मुलाकात भगत सिंह फैन क्लब पेज पर हुई थी।

संसद सुरक्षा चूक मामला : शहीद भगत सिंह जैसी घटना को दोहराना चाहते थे आरोपी - accused wanted to repeat the incident like shaheed bhagat singh-mobile

मिली जानकारी के अनुसार, आरोपी महेश को भी 13 दिसंबर को संसद में हंगामा (Parliament security) वाली घटना में शामिल होना था। लेकिन फिर बाद ये ये तय हुआ की जब घटना को अंजाम देकर फरार होना होगा तो शय देने के लिए कौन होगा। इसके बाद ही ये तय हुआ की महेश यहीं नागौर में ही रहेगा। जब ये लोग फरार होकर आएंगे तो रुकने का इंतजाम महेश करेगा। इसके बाद महेश का दिल्ली आना कैंसिल हो गया। जब घटना को अंजाम देने के बाद अन्य आरोपी 13 दिसम्बर की रात दिल्ली से नागौर बस से पहुंचे तो महेश ने होटल में रुकने का इंतजाम करवाया। फिर जब इनको लगा की पुलिस इनको ढूंढ रही है तो ये लोग नागौर से दिल्ली आ गए और थाने में सरेंडर कर दिया।

Tag: #nextindiatimes #Parliamentsecurity #delhipolice

RELATED ARTICLE

close button