17 C
Lucknow
Thursday, February 22, 2024

दिल्ली-एनसीआर की हवा में सुधार, अब हट गई ये पाबंदियां

Print Friendly, PDF & Email

नई दिल्ली। प्रदूषण के स्तर में हुए सुधार के बाद वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग (सीएक्यूएम) की उप समिति ने ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान (ग्रेप) तीन की पाबंदियों को वापस ले लिया है। इसके साथ ही अब दिल्ली-एनसीआर में निजी निर्माण कार्यों में लगी पाबंदी हट गई है।

यह भी पढ़ें-शिक्षक भर्ती के अभ्यर्थियों की पुलिस से हुई झड़प, BJP कार्यालय का कर रहे थे घेराव

बीएस-3 पेट्रोल एवं बीएस-4 डीजल चालित चार पहिया वाहन भी चल सकेंगे। बारिश के असर से एक्यूआइ में मंगलवार को हुए सुधार के बाद शाम को ग्रेप की उप समिति की बैठक हुई, जिसमें प्रदूषण स्तर की समीक्षा की गई। बैठक में कहा गया कि प्रदूषण स्तर में सुधार हुआ है और अगले कुछ दिनों में वायु गुणवत्ता के दोबारा ‘गंभीर’ श्रेणी में जाने के आसार नहीं हैं।

इसी को देखते हुए ग्रेप तीन की पाबंदियां वापस लेने का फैसला लिया गया। ग्रेप एक और दो की पाबंदियां जारी रहेंगी। इससे पूर्व हवा के स्तर में हुए सुधार के बाद समिति ने 18 नवंबर को ग्रेप के चौथे चरण की पाबंदियों को वापस लिया था। केंद्रीय वायु गुणवत्ता प्रबंधन(CAQM) मे अपने आदेश में लिखा कि दिल्ली का AQI 27.11.2023 शाम 4:00 बजे दर्ज किए गए 395 के स्तर से सुधर गया है और आज शाम 4:00 बजे 312 दर्ज किया गया है, जो GRAP स्टेज-III कार्यों को लागू करने की सीमा से लगभग 83 AQI अंक कम है (दिल्ली AQI 401-450)।

स्टेज-III तक सभी चरणों में निवारक/शमनकारी/प्रतिबंधात्मक कार्रवाई चल रही हैं। अगले कुछ दिनों में AQI के बहुत खराब श्रेणी में बने रहने की संभावना है। हवा की क्वॉलिटी को देखते हुए तत्काल प्रभाव से GRAP के स्टेज-III को वापस लेने का निर्णया लिया जाता है। बता दें किएयर क्वालिटी 301 से 400 के बीच होने की स्थिति में ग्रैप का दूसरा चरण लागू किया जाता है।

Tag: #nextindiatimes #GRAP3 #delhi #AQI #pollution

RELATED ARTICLE

close button