17 C
Lucknow
Sunday, March 3, 2024

साक्षी मलिक के संन्यास लेने पर कांग्रेस ने बीजेपी का किया घेराव

Print Friendly, PDF & Email

नई दिल्ली। कांग्रेस (Congress) का आरोप लगाते हुए कहा कि महिला पहलवानों के साथ हुए अन्याय के लिए सीधे तौर पर मोदी सरकार जिम्मेदार है। सुरजेवाला (Randeep Singh Surjewala) ने कहा कि मोदी सरकार बेटियों की बात सुनने की बजाय अपने सांसद बृजभूषण (Braj Bhushan Singh) का समर्थन कर रही है।

यह भी पढ़ें-शाहरुख खान की ‘डंकी’ ने पहले दिन की इतनी कमाई

कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला (Randeep Singh Surjewala) ने शुक्रवार को पार्टी मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि पहलवान बेटियों के यौन शोषण मामले में आरोपी बीजेपी सांसद ब्रज भूषण सिंह (Braj Bhushan Singh) के सहयोगी संजय सिंह को नया भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) का अध्यक्ष चुना गया है। मलिक ने खेल से संन्यास की घोषणा की। किसान की बेटी साक्षी मलिक (Sakshi Malik) ओलंपिक पदक जीतने वाली देश की पहली महिला पहलवान हैं।

रैसलर साक्षी मलिक ने कुश्ती के जूते टेबल पर रख लिया संन्यास...कांग्रेस ने  कहा- पहलवान की आंखों में आंसू मोदी सरकार की देन - congress olympic winning  wrestler ...

आगे उन्होंने कहा कि यह भारत के खेल इतिहास का एक काला अध्याय है। इससे पता चलता है कि न्याय के लिए आवाज उठाने वाली बेटियों को जबरन रिटायरमेंट देकर घर भेज दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि कुश्ती संघ के चुनाव के बाद ब्रज भूषण सिंह ने कहा था कि ‘वर्चस्व था और रहेगा।’ इतना ही नहीं न्याय की गुहार लगा रही बेटियों पर तंज कसते हुए और न्याय की आस लगाए बैठी देश की हर बेटी को साफ संदेश देते हुए ब्रज भूषण सिंह (Braj Bhushan Singh) ने ये भी कहा कि जिन पहलवानों को राजनीति करनी है वो राजनीति करें और जिन्हें कुश्ती वो कुश्ती करें।

कांग्रेस महासचिव सुरजेवाला (Randeep Singh Surjewala) ने कहा कि न सिर्फ भारतीय कुश्ती संघ बल्कि बीसीसीआई (BCCI) समेत देश के सभी खेल संघ मोदी सरकार और बीजेपी नेताओं के नियंत्रण में हैं। आज देश की बेटियां मोदी सरकार से सवाल पूछ रही हैं कि वह चुप क्यों हैं? पहलवान बेटियों के अपमान पर चुप क्यों है संसद? राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, लोकसभा-राज्यसभा के स्पीकर और सभापति, खेल जगत की नामचीन हस्तियां आज चुप क्यों हैं?

Tag: #nextindiatimes #RandeepSinghSurjewala #BrajBhushanSingh #WFI

RELATED ARTICLE

close button