18 C
Lucknow
Tuesday, March 5, 2024

किसानों के दिल्ली कूच से पहले सीमाएं सील; तलवार व लाठी-डंडे के साथ एंट्री बैन

Print Friendly, PDF & Email

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी में किसानों के मार्च से पहले दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए रविवार को उत्तर-पूर्वी दिल्ली और पड़ोसी उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की सीमाओं पर सीपीसी की धारा 144 लागू कर दी। इसके साथ ही प्रशासन (administration) से कानून एवं व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा गया है।

यह भी पढ़ें-दिल्ली कूच पर अड़े किसान, पंचकूला में धारा 144 लागू, 7 जिलों में इंटरनेट बंद

पुलिस (Police) ने शहादरा और गांधी नगर इलाकों में धारा 144 लागू करने की भी घोषणा की, जिससे 11 मार्च तक बड़े समारोहों पर प्रभावी रूप से प्रतिबंध लगा दिया गया है। प्रशासन (administration) ने यह निर्णय किसानों के मंगलवार को ‘दिल्ली चलो’ के आह्वान के तहत लिया है। किसानों की मांग है कि कृषि उपज के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) सुनिश्चित करने के लिए एक अलग कानून और इस दौरान उनके खिलाफ दर्ज मामलों को वापस लिया जाए। इसके लिए लगभग 200 किसान संघों ने ‘दिल्ली चलो’ मुहिम में शामिल होंगे।

दिल्ली पुलिस (Police) द्वारा रविवार को जारी आदेश में कहा गया है कि जानकारी मिली है कि कुछ किसान संगठनों ने MSP और अन्य मुद्दों पर कानून बनाने की अपनी मांगों को लेकर अपने समर्थकों को 13 फरवरी को दिल्ली में इकट्ठा होने/मार्च करने का आह्वान किया है। उनकी मांगें पूरी होने तक वे दिल्ली की सीमा (Delhi border) पर बैठे रहने की आशंका है। ऐसे में किसी भी अप्रिय घटना से बचने और कानून और व्यवस्था बनाए रखने के लिए धारा 144 लागू करने का आदेश जारी करना आवश्यक है।

आंदोलनकारी किसानों को रोकने के लिए दिल्ली की सीमाएं (Delhi border) छावनी में तब्दील हो गई है। यूपी और हरियाणा (Haryana) से लगी सीमाओं पर 7 हजार से ज्यादा सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं। सीमा पर कई लेयर में सुरक्षा जांच चौकियां होंगी। दिल्ली में प्रवेश करने वाले वाहनों की सघन जांच की जाएगी। सीमा पर पुलिस (Police) दंगारोधी पोशाक से लैस होगी।

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस (Police) की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि प्रतिबंधों के कारण सोमवार और मंगलवार को दिल्ली में प्रवेश करने वाले वाहन चालकों (drivers) को जाम का सामना करना पड़ सकता है। लोगों से जाम से बचने के लिए सार्वजनिक वाहनों का इस्तेमाल करने की अपील की गई है। दिल्ली की सीमाओं (Delhi border) पर आने-जाने वाले वाहनों की चेकिंग के चलते वाहनों की लंबी कतारें लग सकती हैं। इतना ही नहीं तलवार, लाठी-डंडे व त्रिशूल के साथ एंट्री पर रोक लगा दी गई है।

Tag: #nextindiatimes #delhi #police #border

RELATED ARTICLE

close button