24 C
Lucknow
Saturday, February 24, 2024

भविष्य के लिए IT और CS के अलावा ये इंजीनियरिंग कोर्स भी हैं बेस्ट

Print Friendly, PDF & Email

नई दिल्ली। साइंस स्ट्रीम से 12वीं पास कैंडिडेट्स के लिए इंजीनियरिंग फील्ड हमेशा से ही पसंदीदा क्षेत्र में एक रही है। इंजीनियरिंग क्षेत्र ऐसा है जिसका स्कोप कभी कम नहीं होता। इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी करने के बाद कैंडिडेट अच्छी सैलरी और अच्छे प्रोफाइल की चाह मन में रखते हैं।

यह भी पढ़ें- जानें किस दिन जारी होंगे यूजीसी नेट एडमिट कार्ड

साइंस स्ट्रीम के स्टूडेंट्स के लिए कई ऐसे कोर्स हैं जो भविष्य में करियर बनाने का सुनहरा अवसर प्रदान कर सकते हैं। भारत में ज्यादातर स्टूडेंट्स और उनके अविभावकों का एक ही सपना होता है कि उनके बच्चे डॉक्टर, इंजीनियर आदि बनें। लेकिन इसमें भी सबसे ज्यादा स्टूडेंट्स इंजीनियरिंग को चुनते हैं। मैथ्स विषय से 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने वाले ज्यादातर स्टूडेंट्स इंजीनियरिंग में प्रवेश के लिए भागते हैं और उसके लिए कड़ी मेहनत करते हैं।

एंट्रेस एग्जाम में भाग लेने के बाद सभी चाहते हैं कि वे IT और CS से इंजीनियरिंग कर सकें लेकिन मेरिट के बाद उन्हें यह नहीं मिल पाता है ऐसे में छात्र उदास हो जाते हैं। ऐसे स्टूडेंट्स को बता दें कि IT और CS से इतर भी बहुत से इंजीनियरिंग कोर्स मौजूद हैं जिसमें प्रवेश लेकर आप इनकी बराबरी कर सकते हैं और अपनी काबिलियत के दम पर इनसे आएगी भी निकल सकते हैं। आप यहां से कुछ कोर्सेज की जानकारी हासिल कर सकते हैं।

मैकेनिकल इंजीनियरिंग:

मैकेनिकल इंजीनियरिंग कोर्स में छात्रों को मशीनों से जुड़ी जानकारी को पढ़ाया जाता है। इसमें मैकेनिक्स, थर्मोडायनमिक्स, रोबोटिक्स, मटेरियल साइंस के साथ अन्य चीजों का अध्ययन करवाया जाता है।

केमिलकल इंजीनियरिंग:

केमिकल इंजीनियरिंग में रसायन विज्ञान , भौतिक विज्ञान और गणित के कैल्कुलेशन से किसी भी रॉ मटेरियल को उपयोगी वस्तु में बदलने का काम किया जाता है। इसके अतिरिक्त केमिकल इंजीनियरिंग से रासयनिक पौधे में काम में आने वाले की डिजाइनिंग और प्रोसेसिंग करना है।

पेट्रोलियम इंजीनियरिंग:

इस फील्ड में पृथिवी की सतह , नेचुरल गैस निकालने के लिए विभिन्न मेथड और टेक्निक्स का प्रयोग किया जाता है। गैस और पेट्रोल के फ्लो से संबंधित भविष्य के लिए कंप्यूटर सेमुलेशन के उपयोग करके प्रैक्टिकल जानकारी भी दी जाती है।

बॉयोमेडिकल इंजीनियरिंग:

इस कोर्स में आपको सेहत और मेडिकल से जुड़ी मशीनरी के बारे में पढ़ाया जाता है। मेडिकल एक व्यापक क्षेत्र है इसलिए आप इसमें बायोलॉजी, मेडिसिन में उपयोग होने वाले उपकरणों की गहन जानकारी हासिल करके अपनी सुरक्षित भविष्य का निर्माण कर सकते हैं।

Tag: #nextindiatimes #engineering #student #education

RELATED ARTICLE

close button