//

No icon

सावधान

तथ्य छिपाकर शादी करने वाले होशियार, UP सरकार ने उठाया बड़ा कदम, ऐसे निपटेगी सरकार

उत्तर प्रदेश में महिला उत्पीड़न को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार ने सख्त कदम उठाया है। प्रदेश में लगातार बढ़ रहे महिला उत्पीड़न और तथ्य छिपा कर शादी करने के मामलों के बाद ये कदम उठाया गया है। 

 प्रदेश के कई जिलों से लगातार अंतर्जातीय विवाह तथ्य छिपाकर शादी करने के मामले सामने आए हैं। इन्हीं मामलों को लेकर पति-पत्नी में मार-पीट या अनबन हो रहा है। इस बीच यूपी के अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने आज बताया है कि "सीएम योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिया है कि महिला उत्पीड़न और तथ्य छिपाकर शादी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए, सीएम ने राज्य में इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए अधिकारियों क कार्ययोजना बना कर देने को कहा है"।

अमरोहा में इरम नाम की महिला का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो चुका है। वीडियो ने इरम ने ससुराल पक्ष से विवाद की वजह से जान का खतरा बताया था। पारिवारिक विवाद की वजह से उसे घर से निकाल दिया गया था। वीडियो में इरम ने इंसाफ के लिए सीम योगी आदित्यनाथ से गुहार लगाई थी। इरम ने वीडियो में कहा था, "पुलिस कप्तान के पास गई थी, उन्होंने कोरोना को लेकर असमर्थता जाहिर किया, अब मुझे किसी पुलिसवाले से उम्मीद नहीं है, बस योगी जी से उम्मीद है. सब पुलिसवाले मेरा मजाक उड़ाते हैं और हंसते हैं. तांत्रिक से पेसा लेते हैं. योगी जी मुझे बचाओ"। इरम की हत्या के बाद वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है।

बता दें कि शादीशुदा होने के बाद जानकारी छुपा कर अंतर्जातीय  विवाह के कई मामले आए थे। कई मामलों में लड़के ने पहली शादी को छुपा कर अंतरधार्मिक विवाह किया था। ऐसे ही मामलों का संज्ञान लेते हुए अब योगी सरकार ने सख्ती दिखानी शुरू की है।


TOP