विश्व स्वास्थ्य संगठन ने ओमिक्रोन को लेकर दी चेतावनी, इसे हल्के में लेने की भूल बिल्कुल न करें ,होश उड़ा देगी ये रिपोर्ट

कई देशों में पैर पसार चुका ओमिक्रोन वैरिएंट भारत में भी अपना कहर बरपा रहा है। देश में ओमिक्रोन के लगभग दो हजार मामले सामने आ चुके हैं। ओमिक्रोन के साथ ही कोरोना संक्रमण ने भी रफ्तार पकड़ ली है। इसी बीच, विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने ओमिक्रोन को लेकर चेतावनी दी है। डब्ल्यूएचओ ने कहा कि ओमिक्रोन के बढ़ते मामलों के चलते नए और घातक वैरिएंट का सामना करना पड़ सकता है। डब्ल्यूएचओ की वरिष्ठ आपातकालीन अधिकारी कैथरीन स्मालवुड ने कहा कि इससे सतर्क रहना होगा।

ओमिक्रोन को हल्के में ना लें

डब्ल्यूएचओ की अधिकारी ने कहा कि ओमिक्रोन को हल्के में लेने की भूल ना करें। उन्होंने कहा कि सर्दी, खांसी को आम बीमारी समझने की गलती कतई ना करें। ओमिक्रोन मौत का कारण बन सकता है। हालांकि, ये डेल्टा की तुलना में थोड़ा कम घातक है, लेकिन फिर भी इससे सतर्क करने की जरूरत है। बता दें कि ओमिक्रोन 29 दिसंबर 2021 तक लगभग 128 देशों में फैल चुका है।

जंगल में आग की तरह फैल रहा ओमिक्रोन

अधिकारी ने आगे कहा कि ओमिक्रोन जंगल में आग की तरह फैल रहा है। हालांकि, उन्होंने ये भी कहा कि ये कम गंभीर नजर आ रहा है। ऐसे में इससे जल्द उबरने की उम्मीद जगी है।

14 दिन क्वारंटीन रहने की सलाह

उधर, डब्ल्यूएचओ ने कोविड मरीजों को 14 दिनों तक क्वारंटीन में रहने की सलाह दी है। एक अधिकारी ने कहा कि कम संक्रमण वाले देशों में क्वारंटीन की लंबी अवधि कोरोना मामलों को कम करने में मदद करती है। उन्होंने कहा कि देशों की अर्थव्यवस्था को चालू रखने के लिए क्वारंटीन की छोटी अवधि को उचित ठहराया जा सकता है

ब्रिटेन में दो लाख से ज्यादा मामले

ओमिक्रोन यूरोप समेत पूरे विश्व में कहर बरपा रहा है। ब्रिटेन में बीते 24 घंटे में इसके दो लाख से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं। प्रधानमंत्री बोरिस जानसन ने मंगलवार को कहा कि इंग्लैंड बगैर लाकडाउन के संक्रमण में वृद्धि का सामना कर सकता है। वहीं इटली में एक दिन में 1,70,844 मामलों की पुष्टि हुई है। इटली में 259 मरीजों की मौत भी हुई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

13 + ten =

Back to top button