वेस्टइंडीज टीम ने टी20 में 5 विकेट से जीत दर्ज की

वेस्टइंडीज की टीम ने दूसरे टी20 में 5 विकेट से जीत दर्ज कर 5 मैचों की टी20 सीरीज में वापसी कर ली है। वार्नर पार्क में खेले गए दूसरे मुकाबले में वेस्टइंडीज ने भारत को पहले 138 रनों पर आलआउट किया और फिर 4 गेंद शेष रहते जीत दर्ज कर ली। पहला टी20 भारत ने 68 रनों के भारी अंतर से अपने नाम किया था। लेकिन इस जीत के बाद मेजवान टीम ने सीरीज में 1-1 की बराबरी कर ली। इस मैच की पहली पारी में मैककॉय ने 6 विकेट लेकर भारतीय टीम को पूरी तरह से बैकफुट पर ला दिया और पूरी टीम 138 रन पर ऑल-आउट हो गई। इसके बाद वेस्टइंडीज ने 19.2 ओवर में 5 विकेट पर 142 रन बनाकर मैच जीत लिया। 

टीम इंडिया को मिली इस हार के बाद कप्तान रोहित शर्मा ने कहा कि हमने बोर्ड पर जीत के लिए पर्याप्त स्कोर खड़ा नहीं किया और हमने बल्लेबाजी अच्छी नहीं की। पिच अच्छा खेल रही थी, लेकिन हम खुद को सही तरीके से अप्लाई नहीं कर पाए, लेकिन ऐसा हो सकता था। जब आप बल्लेबाजी समूह के रूप में कुछ कर रहे होते हैं, तो हो सकता है कि आप हमेशा सफल न हों, लेकिन हम इससे सीखेंगे। वहीं ये खिलाड़ियों को मौका देने के बारे में भी है। हम जानते है कि भुवी हमारे लिए वर्षों से क्या कर रहे हैं। वहीं जब तक आप अवेश और अर्शदीप जैसे लोगों को मौका नहीं देंगे, आप कभी नहीं जान पाएंगे, लेकिन यह सिर्फ एक गेम है।

रोहित ने आगे कहा कि टीम के खिलाड़ियों के पास कौशल और प्रतिभा है और यह सब उनका समर्थन करने के बारे में है। मुझे वास्तव में गेंदबाजों और टीम पर गर्व है। इस तरह के लक्ष्य 13-14 ओवर में हासिल किए जा सकते हैं लेकिन हमने इसे आखिरी ओवर तक इसे खींच लिया। मुझे लगा कि खिलाड़ियों ने योजनाओं को अंजाम दिया और गेंदबाजों ने जिस तरह से गेंदबाजी की उससे वास्तव में मैं खुश हूं। हमें अपनी बल्लेबाजी में कुछ चीजों पर गौर करना होगा। लेकिन मैं इसे बार-बार कहूंगा, हम बल्ले से यही अप्रोच चाहते हैं और हम कुछ नहीं बदलेंगे।

टीम इंडिया को मिली इस हार के बाद कप्तान रोहित शर्मा ने कहा कि हमने बोर्ड पर जीत के लिए पर्याप्त स्कोर खड़ा नहीं किया और हमने बल्लेबाजी अच्छी नहीं की। पिच अच्छा खेल रही थी, लेकिन हम खुद को सही तरीके से अप्लाई नहीं कर पाए, लेकिन ऐसा हो सकता था। जब आप बल्लेबाजी समूह के रूप में कुछ कर रहे होते हैं, तो हो सकता है कि आप हमेशा सफल न हों, लेकिन हम इससे सीखेंगे। वहीं ये खिलाड़ियों को मौका देने के बारे में भी है। हम जानते है कि भुवी हमारे लिए वर्षों से क्या कर रहे हैं। वहीं जब तक आप अवेश और अर्शदीप जैसे लोगों को मौका नहीं देंगे, आप कभी नहीं जान पाएंगे, लेकिन यह सिर्फ एक गेम है।

रोहित ने आगे कहा कि टीम के खिलाड़ियों के पास कौशल और प्रतिभा है और यह सब उनका समर्थन करने के बारे में है। मुझे वास्तव में गेंदबाजों और टीम पर गर्व है। इस तरह के लक्ष्य 13-14 ओवर में हासिल किए जा सकते हैं लेकिन हमने इसे आखिरी ओवर तक इसे खींच लिया। मुझे लगा कि खिलाड़ियों ने योजनाओं को अंजाम दिया और गेंदबाजों ने जिस तरह से गेंदबाजी की उससे वास्तव में मैं खुश हूं। हमें अपनी बल्लेबाजी में कुछ चीजों पर गौर करना होगा। लेकिन मैं इसे बार-बार कहूंगा, हम बल्ले से यही अप्रोच चाहते हैं और हम कुछ नहीं बदलेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

three × 3 =

Back to top button