गर्म हवाओं ने बढाई लोगों की मुश्किलें, 1 मई तक घर से निकलें तो बरतें सावधानी

दिल्ली-एनसीआर में राहत का दौर अब खत्म हो चुका है। बुधवार सुबह से तेज धूप और गर्मी के बीच लू भी चलनी शुरू हो गई है। गर्म हवाओं ने दिल्ली-एनसीआर के लाखों लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी हैं और आने वाली 1 मई तक राहत के आसार नहीं है। वहीं, भीषण गर्मी के मद्देनजर मौसम विभाग ने 4 दिनों के लिए यलो अलर्ट जारी किया है। तेज धूप  के कारण गर्म हवाओं ने बाइक सवारों को परेशान कर रखा है। लोग चेहरे को छुपा कर रोड पर चलते नजर आ रहे हैं। 

इस बीच भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने बृहस्पतिवार से लगातार अगले पांच दिन तक यलो अलर्ट जारी किया है, हालांकि गर्मी और लू की शुरुआत बुधवार से ही हो चुकी है।  ऐसे में बृहस्पतिवार से दिल्ली वासियों को अधिक गर्मी और लू का सामना करना पड़ सकता है। मौसम विभाग का अनुमान है कि बृहस्पतिवार से दिन का तापमान 44 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है।

दिल्ली-एनसीआर में पिछले कुछ दिनों से मौसमी उतार-चढ़ाव के बीच बुधवार को अधिकतम तापमान 43 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। इसके अगले दिन यानी बृहस्पतिवार को दिल्ली के अलग-अलग हिस्सों में लू चलने के आसार हैं। इस दौरान न्यूनतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस रहने के आसार हैं।

वहीं शुक्रवार को 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार वाली हवाओं के साथ धूल भरी आंधी चलने की संभावना है। वहीं, इस दौरान शुक्रवार को दिल्ली-एनसीआर में हल्की बूंदाबांदी भी हो सकती है। हालांकि, तापमान पर इसका कोई खास असर नहीं पड़ेगा। मंगलवार को दिल्ली का अधिकतम तापमान 40.8 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया, जो सामान्य से दो डिग्री ज्यादा है।

वहीं, न्यूनतम तापमान 24.9 डिग्री सेल्सियस रहा, जो सामान्य से एक डिग्री ज्यादा है। हवा में नमी का स्तर 42 से लेकर 18 प्रतिशत तक रहा। दिल्ली के रिज क्षेत्र सबसे ज्यादा अधिकतम तापमान 42.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।मौसम विभाग का अनुमान है कि अब गर्मी में तेजी से इजाफा होगा।

खराब श्रेणी में ही रही दिल्ली एनसीआर की हवा

मंगलवार को भी दिल्ली- एनसीआर की हवा खराब श्रेणी में दर्ज की गई। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) द्वारा जारी एयर क्वालिटी बुलेटिन के अनुसार दिल्ली का एयर इंडेक्स 209 रहा। एनसीआर में फरीदाबाद का एयर इंडेक्स 240, गाजियाबाद का 189, ग्रेटर नोएडा का 212, गुरुग्राम का 270 और नोएडा का 209 दर्ज किया गया। दिल्ली में पीएम 2.5 का स्तर 74 जबकि पीएम 10 का स्तर 224 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर दर्ज किया गया। 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

eight − 8 =

Back to top button