उत्तराखंड: बारिश के बाद भूस्खलन से यमुनोत्री हाईवे सहित 250 से ज्यादा सड़कें बंद

उत्तराखंड में हो रही भारी बारिश की वजह से युमनोत्री हाईवे सहित 260 सड़कें बंद हो गई हैं।  इस वजह से लोगों को आवाजाही में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। लोक निर्माण विभाग की रिपोर्ट के अनुसार राज्य के 21 राज्य मार्ग बंद चल रहे हैं। लोनिवि के प्रमुख अभियंता अयाज अहमद ने बताया कि बंद सड़कों को खोलने के प्रयास किए जा रहे हैं। 

बताया कि शुक्रवार तक राज्य में बारिश से 158 सड़कें बंद थी। शनिवार को हुई तेज बारिश की वजह से 146 और सड़कें बंद हो गई। इसके बाद राज्य में बंद कुल सड़कों की संख्या 304 हो गई। हालांकि देर सांय तक 44 सड़कों को खोल दिया गया है जिसके बाद 260 सड़कें बंद चल रही हैं। उन्होंने कहा कि सड़कों को खोलने के लिए 295 जेसीबी मशीनों को तैनात किया गया है।

यमुनोत्री हाईवे समेत 23 मोटर मार्ग बंद
उत्तरकाशी जिले में हो रही लगातार बारिश से नदियों का जलस्तर बढ़ गया है। वहीं बारिश के चलते जिले में यमुनोत्री हाईवे समेत 23 ग्रामीण मोटर मार्ग बंद हो गए हैं। जिससे लोगों का जनजीवन पूरी तरह अस्त व्वस्त हो गया है। जिले में लगातार हो रही बारिश के चलते शनिवार को भागीरथी नदी का जलस्तर 1120.24, टौंस नदी का 1151.01 तथ यमुना नदी का जल स्तर 1059.13 था जो खतरे के निशान से एक मीटर नीचे हैं।

प्रशासन की ओर से नदी किनारे सटी वस्तियों को अलर्ट रहने को कहा गया है। दूसरी ओर विकास नगर, नौगांव, यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग डामटा के पास भूस्खलन तथा धरासू यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग ब्रहम्खाल कुमराड़ा के पास मलबा आने के कारण अवरूद्ध है। जिसे सुचारू करने के लिए एनएच के कर्मचारी व मशीने जुटी कार्य में लगे हैं। इसके साथ ही जिले में 23 ग्रामीण मोटर मार्ग बंद हो गए।

रुद्रप्रयाग-गौरीकुंड हाईवे 11 घंटे तक रहा बाधित
जिले में लगातार हो रही बारिश से शनिवार को रुद्रप्रयाग-गौरीकुंड हाईवे बांसवाडा में 11 घंटे मलबा एवं बोल्डर आने से अवरुद्ध रहा। वहीं बदरीनाथ हाइवे भी सिरोबगड़ में सुबह दो घंटे अवरुद्ध रहा। इस दौरान मार्गो के दोनों वाहनों की कतारें लगी रहने से स्थानीय लोगों के साथ ही यात्रियों को खासी दिक्कतों उठानी पड़ी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

sixteen + fourteen =

Back to top button