यूपी के लखनऊ में राजभाषा के प्रचार-प्रसार को ले चारबाग स्टेशन पर हुई बैठक

राजभाषा के प्रचार प्रसार के लिये उत्तर रेलवे,लखनऊ मंडल द्वारा मंडल स्तर पर आयोजित की जाने वाली विभिन्न गतिविधियों के तहत शुक्रवार को सहायक मंडल इंजीनियर(मुख्यालय), चारबाग, लखनऊ के कार्यालय में राजभाषा कार्यान्वयन समिति की तिमाही बैठक आयोजित हुई। 

लखनऊ (आरएनएस)

राकेश श्रीवास्तव, सहायक मंडल इंजीनियर (मुख्यालय) की अध्यक्षता में बैठक हुई। बैठक में सभी सदस्यों से आग्रह किया गया कि वे अपने दैनिक सरकारी कामकाज में राजभाषा हिंदी का अधिकाधिक प्रयोग करें। बैठक की संयोजिका सेवाती देवी ने बताया कि उनके कार्यालय में पास पीटीओ तथा छुट्टी के आवेदन-पत्र हिंदी में प्राप्त होते हैं तथा इन्हें हिंदी में ही बनाया जाता है। उपस्थिति रजिस्टर में नाम व पदनाम हिंदी में लिखे हुए हैं तथा रेलकर्मियों द्वारा हस्ताक्षर हिंदी में किए जाते हैं साथ ही पत्राचार में हिंदी का प्रयोग किया जाता है। कहा कि कंप्यूटर से निकाले जाने वाले अधिकतर पत्र हिंदी में बनाए जाते हैं। बैठक में राकेश श्रीवास्तव, सहायक मंडल इंजीनियर/मु. ने कहा कि वे हिंदी व अंग्रेजी और द्विभाषी रूप में बनाई गई मोहरों का ही प्रयोग करें, जिसमें पहले हिंदी उसके बाद अंग्रेजी का प्रयोग किया गया हो और दोनों भाषाओं के शब्दों का आकार एक समान हो। इस बात पर भी चर्चा हुई कि यदि निरीक्षणकर्ता अपनी रिपोर्ट हिंदी में बनायें तो अन्य कर्मचारी न केवल उस निरीक्षण रिपोर्ट में उजागर की गई कमियों को भली प्रकार समझ सकेंगे, बल्कि उस रिपोर्ट के आधार पर अपनी कार्यशैली में भी वांछित सुधार शीघ्र ही ला सकेंगे। इसके साथ ही निरीक्षण के दौरान राजभाषा संबंधी निरीक्षण भी किया जाए। इससे भी हिंदी के प्रयोग-प्रसार को बल मिलेगा। इस बैठक में मंडल कार्यालय के राजभाषा विभाग से आयी प्रतिनिधि ने उपस्थित कर्मियों को विभागीय परीक्षाओं में राजभाषा से संबंधित पूछे जाने वाले प्रश्नों के संबंध में राजभाषा के संवैधानिक प्रावधानों तथा नियमों की जानकारी दी।

Tags : #UPNews #UttarPradesh #Lucknow #CharbaghStation #PrachaarPrasaar #Hindinews #OfficialLanguageImplementationCommittee #Meeting

Rashtriya News

Related Articles

Back to top button