यूपी के दिवंगत युवक ने महिला पर उसे झूठे दुष्कर्म मामले में फंसाने का लगाया था आरोप, वीडियो सोशल मीडिया पर हुआ वायरल

यूपी में करीब दस दिन पहले अपना जीवन समाप्त कर चुके एक व्यक्ति ने महिला पर उसे झूठे मामले में फंसाने का आरोप लगाते हुए एक वीडियो बनाया था। ये वीडियो अब सोशल मीडिया पर सामने आया है। वीडियो में, कथित आरोपी नरेंद्र कुमार ने दावा किया है कि वह महिला से प्यार करता था, लेकिन उसके साथ कभी शारीरिक संबंध नहीं बनाए।

राष्ट्रीय (आरएनएस)

एक अन्य वीडियो में, उसे अपने गले में फंदा बांधते देखा जा सकता है और यह कहते हुए सुना जा सकता है कि महिला उसका पीछा कर रही थी। इस वीडियो में वह कहता है, जब मैंने उसे फटकार लगाई तो उसने सितंबर के अंत में मेरे खिलाफ पुलिस शिकायत दर्ज कराई थी। मैंने गिरफ्तार होने के डर से गन्ने के खेतों में एक सप्ताह से अधिक समय बिताया। महिला के झूठे दावों ने मेरे आत्मसम्मान को गंभीर रूप से चोट पहुंचाई और मेरी मानसिक स्थिति को प्रभावित किया।
इसके बाद उसे महिला और उसके परिवार को दोषी ठहराते हुए और अपने ही परिवार से यह कदम उठाने के लिए माफी मांगते हुए सुना जा सकता है। नरेंद्र कुमार 8 अक्टूबर को पीलीभीत जिले के अपने गांव भौरियाई में एक पेड़ से लटके पाए गए थे। महिला के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने वाले उनके पिता सेवा राम ने कहा, मेरा बेटा काफी दबाव में था। महिला उसे ब्लैकमेल कर रही थी। वीडियो और एक नोट बाद में मिला, जिसे मैंने सार्वजनिक किया क्योंकि मेरे पास कोई दूसरा विकल्प नहीं बचा था। सुसाइड नोट और वीडियो का संज्ञान लेते हुए पीलीभीत में पुलिस ने अब महिला और आठ अन्य के खिलाफ आईपीसी की धारा 306 के तहत प्राथमिकी दर्ज की है। एसएचओ रोहित कुमार ने कहा, हम यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक सबूत एकत्र कर रहे हैं कि इस मामले में केवल असली दोषियों पर मुकदमा चलाया जाए और उन्हें जेल भेजा जाए।

Tags : #UPNews #UttarPradesh #Crimenews #Crime #DistrictPilibhit #CriminalWomen #Hindinews

Rashtriya News

Related Articles

Back to top button