फोड़े-फुंसी की समस्या से राहत पाने के लिए आजमाए ये घरेलू तरीके

आजकल के बढ़ते प्रदूषण और संक्रमण के कारण स्किन को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता हैं। इन्हीं परेशानियों में से एक हैं फोड़े-फुंसी की समस्या जो कि बैक्टीरियल इन्फेक्शन की वजह से होता है। फोड़ा या फुंसी त्वचा पर गांठ की तरह होता है जो कि पिम्पल जैसा दिखता है। फोड़े-फुंसी में कई बार पस भी हो जाता है, जिसकी वजह से इनमें दर्द होने लगता है। फोड़े फुंसियों का इलाज जितना जल्द कर लिया जाए उतना ही बेहतर होता है। इसलिए आज इस कड़ी में हम आपके लिए कुछ ऐसे घरेलू उपाय लेकर आए हैं जिनकी मदद से आप फोड़े-फुंसी की इस समस्या से राहत पा सकते हैं। आइये जानते हैं इन नुस्खों के बारे में…

एलोवेरा

त्वचा के लिए एलोवेरा काफी फायदेमंद होता है, ऐसे में इसके गूदे को काटकर इसका पेस्ट बना लें। इसे फोड़े-फुंसी वाले स्थान पर लगाएं, रोजाना दो से तीन बार लगाने के बाद आपको आराम मिलेगा। इसके अलावा खुजली होने पर भी इसे आप लगा सकते हैं, इससे खुजली नहीं होगी।

बेकिंग सोडा

बेकिंग सोडा के साथ नमक मिलाकर मिश्रण बनाकर फोड़े फुंसी को पकाने और उसका पस निकालने में मदद मिलती है। इन्हें मिलाकर पानी के साथ पेस्ट बनाएं और करीब 20 मिनट रहने दें। फिर पेस्ट हटाने से पहले हल्का सा दबाकर पस को निकालें। दिन में एक बार ही इस प्रक्रिया को करें। बेकिंग सोडा एंटीसेप्टिक और एंटीबैक्टीरियल गुणों के कारण संक्रमण से बचाता है।

नारियल तेल

नारियल तेल में एंटीबैक्टीरियल और एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं। इसके इस्तेमाल से आप फोड़े और फुंसी से छुटकारा पा सकते हैं। नारियल तेल में कपूर मिलाकर लगाने से आपको काफी फायदा मिलेगा। बता दें कि तीन से चार पीस कपूर को नारियल तेल में अच्छी तरह से मिला लें और इसे रोजाना दो से तीन बार लगाएं, फर्क आपको साफ नजर आने लगेगा।

नीम

नीम का एंटी वायरल और एंटी फंगल गुण फोड़े-फुंसी सही करने में मदद करता है। इसके लिए नीम की पत्तियों को पीसकर पेस्ट बनाएं और इसे फोड़े-फुंसी पर लगाकर 20 मिनट रहने दें और फिर साफ पानी से धो दें। इस उपाय को दिन में तीन-चार बार कर सकते हैं।

हल्दी

नारियल तेल की तरह हल्दी में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं, साथ ही इसे औषधी के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। इसके लिए एक चम्मच हल्दी में पानी मिलाकर पेस्ट बनाएं और उसे फोड़े-फुंसी के स्थान पर लगाएं। कुछ मिनट तक लगे रहने के बाद उसे साधे पानी से धो लें। कुछ दिनों तक लगाने के बाद फोड़-फुंसी ठीक हो जाएंगे।

टी ट्री ऑयल

टी ट्री ऑयल में एंटीमाइक्रोबियल और एंटीसेप्टिक और नारियल के तेल में एंटीबैक्टीरियल और एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो फोड़े फुंसी को कम करने का काम करते हैं। इस्तेमाल के लिए एक कटोरे में नारियल के तेल को डालें। इसके बाद आप इसमें टी ट्री ऑयल को मिला दें। इस मिश्रण को एक दिन में करीब चार से पांच बार फोड़े फुंसी पर लगाएं। यह उपाय कम से कम एक सप्ताह तक अपनाएं।

तुलसी

पूजा करने के अलावा तुलसी में औषधी के गुण पाए जाते हैं। ऐसे में तुलती के पत्तों को पीसकर लेप तैयार कर लें और अब इसे फोड़े-फुंसी वाले जगह पर लगाएं। रोजाना लगाने से आपको फायदा जरूर मिलेगा।

Related Articles

Back to top button