आज है विश्‍व थैलेसीमिया दिवस, डाक्‍टरों ने लोगों को रक्‍तदान के प्रति किया जागरूक…. 

आज विश्‍व थैलेसीमिया दिवस है। इस रोग के प्रति समाज को जागरूक करने के लिए इलाहाबाद मेडिकल एसोसिएशन के महिला व पुरुष डाक्टरों ने रविवार की सुबह साइकिल से दौड़ लगाई। लाल टी शर्ट पहने सभी डाक्टरों ने एएमए भवन से इलाहाबाद हाईकोर्ट तक फिर सिविल लाइंस क्षेत्र में जाकर लोगों को अपनी ओर आकर्षित किया। बीच रास्ते रुककर लोगों को बताया गया कि थैलेसीमिया से पीड़ित बच्चों के लिए हर माह रक्त की जरूरत पड़ती है इसलिए अधिक से अधिक रक्तदान करें।

थैलेसीमिया रोग में हीमोग्‍लो‍िबिन बनने की रुक जाती है प्रक्रिया : आज विश्व थैलेसीमिया दिवस और विश्व मातृ दिवस है। यह दोनों ही दिवस मां, बेटे के रिश्ते से जुड़े हैं। बेटे को अगर थैलेसीमिया हो जाता है तो उसके रक्त में हीमोग्लोबिन बनने की प्रक्रिया रुक जाती है। इससे बच्चे को हर माह रक्त बदलने की जरूरत पड़ती है, यही मां के लिए परेशानी का सबसे बड़ा कारण बनता है। कुछ यही बताने के लिए प्रयागराज के प्रख्यात डाक्टरों ने साइकिल चलाई।

डाक्‍टरों ने रक्‍तदान के प्रति किया जागरूक : साइकिल रैली सुबह एएमए भवन से रवाना हुई। इसका संयोजन डा. वर्षा गुप्ता ने किया। इसमें महिला पुरुष डाक्टर शामिल हुए। सभी लाल टी शर्ट पहने थे क्योंकि रक्त का रंग लाल होता है। उद्देश्य था लोगों को यह बताना कि रक्तदान के प्रति उन्मुख हों और किसी जरूरतमंद की जान बचाने के लिए ब्लड बैंक हमेशा भरपूर रखा जा सके। एएमए के अध्यक्ष डा. सुजीत कुमार सिंह, सचिव डा. आशुतोष गुप्ता, डा. सुबाेध जैन, डा. अनिल शुक्ला, डा. अशोक अग्रवाल, डा. अनूप चौहान, डा. ऋतु जैन, डा. कचनार वर्मा समेत अन्य चिकित्सक शामिल रहे।

एएमए भवन में रक्तदान शिविर : इलाहाबाद मेडिकल एसोसिएशन (एएमए) भवन में आज रक्तदान शिविर भी लगाया गया है। इसमें 1000 यूनिट रक्त का लक्ष्य रखा गया है। इसमें सभी डाक्टरों व अन्य लोगों से भी रक्तदान के लिए कहा गया है। यह शिविर रात आठ बजे तक चलेगा। इसमें जिले के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी भी शामिल हो रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

three − 1 =

Back to top button