कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा का आज 41वां दिन , इस पदयात्रा में कई कार्यकर्ता हुए शामिल

कल के मतदान पर यात्रा को एक दिन का विश्राम दिया गया था लेकिन आज फिरसे यात्रा शुरू की गयी। कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा का आज 41वां दिन है। राहुल गांधी ने आंध्र प्रदेश के कुरनूल से पदयात्रा की शुरुआत की।

एक दिन के विश्राम के बाद भारत जोड़ो यात्रा आज से फिर शुरू की गई। भारत जोड़ो यात्रा मंगलवार को आंध्र प्रदेश में प्रवेश कर गई है। कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने 41वें दिन आंध्र प्रदेश के कुरनूल से भारत जोड़ो यात्रा की शुरुआत की। पार्टी नेता राहुल गांधी अन्य लोगों के साथ एक दिन के ब्रेक के बाद कुरनूल जिले के हलहरवी गांव पहुंचेइस दौरान उनके साथ सैकड़ों कार्यकर्ता चल रहे हैं। कांग्रेस पार्टी की भारत जोड़ो यात्रा तमिलनाडु के कन्याकुमारी से शुरू हुई थी, जिसका समापन जम्मू-कश्मीर में होगा।

यात्रा के 41वें दिन राहुल गांधी ने कुरनूल के हलहरवी बस स्टॉप से मार्च फिर शुरू किया।

कांग्रेस ने एक ट्वीट में कहा, ‘भारत जोड़ी यात्रा जैसे ही आंध्र प्रदेश में प्रवेश करती है, उत्साह अगले स्तर पर चला गया है। सभी पदयात्रियों के भारी समर्थन ने सभी को उत्साहित किया है।’

पार्टी नेता आज कुरनूल में हट्टी बेलागल और मुनिकुर्ती को कवर करेंगे। सभी पदयात्री चागी गांव में रात्रि विश्राम करेगी।

इस बीच, शिवसेना प्रमुख और महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के अध्यक्ष शरद पवार भारत जोड़ो यात्रा में हिस्सा लेंगे।

अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए सोमवार को हुई वोटिंग

वहीं कांग्रेस के अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए सोमवार को वोटिंग हुई। इस बीच कांग्रेस सांसद और गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री फ्रांसिस्को सरदिन्हा ने भारत जोड़ो यात्रा को लेकर राहुल गांधी से एक अपील की।

फ्रांसिस्को ने भारत जोड़ो यात्रा का समर्थन न करते हुए कहा कि राहुल गांधी को भारत जोड़ो यात्रा रोक देनी चाहिए और गुजरात व हिमाचल प्रदेश जाकर पार्टी का प्रचार करना चाहिए जहां आने वाले समय पर चुनाव होने वाले हैं।

7 सितंबर से शुरू हुई थी भारत जोड़ो यात्रा

कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा 7 सितंबर को कन्याकुमारी से शुरू हुई थी। ये यात्रा जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में खत्म होगी। इस दौरान कांग्रेस कार्यकर्ता कुल 3500 किमी का सफर पूरा करेंगे।

Related Articles

Back to top button