भोलेनाथ की कृपा पाने के लिए सावन में जरुर करें ये उपाय

सावन का महीना जारी हैं जिसमें शिव-पार्वती की पूजा कर उनका आशीर्वाद लिया जाता हैं। हिंदू धर्म में इस माह का बड़ा महत्व है क्योंकि यह माह शिवजी का प्रिय महीना माना जाता है। भगवान शिव को भोलेनाथ भी कहा जाता है क्योंकि वे भक्तों की एक पुकार पर उनके कष्ट हर लेते हैं। सावन के महीने में नियमो के साथ की गई भगवान शिव की आराधना आपके जीवन में सकारात्मकता लेकर आती हैं। भगवान शिव के आशीर्वाद से जीवन में सुख-समृद्धि आती हैं। आज इस कड़ी में हम आपको सावन के महीने में किए जाने वाले कुछ उपायों के बारे में बताने जा रहे हैं। आइये जानते हैं इनके बारे में…

सोमवार के उपवास से मिलता है विशेष लाभ


सावन के माह में सोमवार को उपवास यानी व्रत करना चाहिए। ऐसा करने से आपकी मन की चंचलता दूर होती है, जिससे आपके अंदर निर्णय लेने की क्षमता बढ़ती है। साथ ही ग्रह-नक्षत्रों का अशुभ प्रभाव दूर होता है और मुश्किल से मुश्किल परिस्थिति में भी खुद को सही तरीके से व्यक्त करते हैं। सावन सोमवार का व्रत करने से भगवान शिव भी प्रसन्न होते हैं और उनका आशीर्वाद आपको प्राप्त होता है।

शिवलिंग पर दूध का अभिषेक करें

वैसे तो भगवान शिव की पूजा करने का हमेशा ही शुभ फल मिलता है लेकिन सावन के महीने में भगवान शिव की पूजा करना और शिवलिंग पर दूध चढ़ाना अति शुभ माना जाता है। यदि आप सावन में हर रोज शिवलिंग पर दूध चढ़ाते हैं तो शिव परिवार का आशीर्वाद मिलता है। आपका मन भी मजबूत होता है क्योंकि मन का कारक ग्रह चंद्रमा है, जो भगवान शिव के सिर पर सुशोभित है। सावन में हर रोज शिवलिंग पर दूध चढ़ाने से कुंडली में चंद्रमा की स्थिति भी मजबूत होती है और मन की चंचलता दूर होती है। साथ ही आप भगवान शिव को केसर मिश्रित खीर का भोग लगाएं, ऐसा करने से नौकरी और व्यवसाय में लाभ प्राप्त होता है।

करें बेल पत्र का उपाय


अगर बेल पत्र पर चंदन से ॐ नम: शिवाय लिखकर, इसे महादेव को अर्पित किया जाए तो कोई भी कार्य सिद्ध हो सकता है। इसके अलावा आक का फूल महादेव को अति प्रिय है। यदि इसकी माला बनाकर महादेव को अर्पित की जाए तो वे अत्यंत प्रसन्न होते हैं। इसके अलावा यदि बीमारियां पीछा नहीं छोड़तीं तो सावन के महीने में दूध और जल मिलाकर उसमें थोड़े काले तिल डालकर शिवलिंग का अभिषेक करें। इसे बहुत ही चमत्कारी उपाय माना जाता है।

भगवान शिव को अर्पित करें ये चीजें


भगवान शिव को भांग, धतूरा और बेलपत्र अर्पित करना बहुत शुभ माना गया है। ये चीजें सावन सोमवार के दिन शिव मंदिर में शिवलिंग को अर्पित करते हैं तो भोलेनाथ का आशीर्वाद प्राप्त होता है और जीवन में कभी भी धन्य धान्य की कमी नहीं होती है और जीवन में आ रही अड़चन भी दूर होती हैं।

महामृत्युंजय मंत्र का करें जप

ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम् उर्वारुकमिव बन्धनान्मृ त्योर्मुक्षीय मामृतात् ॐ स्वः भुवः भूः ॐ सः जूं हौं ॐ। सावन माह में हर रोज महामृत्युंजय मंत्र का जप करना चाहिए, ऐसा करने से आरोग्य की प्राप्ति होती है। शास्त्रों में स्वस्थ शरीर को ही संपन्नता का प्रतीक बताया गया है, आप सेहतमंद हैं तो आप जीवन में हर सफलता अर्जित कर सकते हैं। इसलिए सावन माह में प्रतिदिन महामृत्युंजय मंत्र का जप करना चाहिए। इसके साथ ही इस मंत्र के जप से आपका मानसिक स्वास्थ्य भी दुरुस्त होता है।

खान-पान के नियमों का रखें ध्यान


भगवान शिव की कृपा प्राप्त करने के लिए आपको सावन के महीने में अपने खान-पान का भी विशेष ध्यान रखना होगा। इस माह आपको मांस-मदिरा अर्थात तामसिक भोजन के सेवन से परहेज करना चाहिए। साथ ही इस माह दूध भी नहीं पीना चाहिए क्योंकि सावन के महीने में भगवान शिव को दूध अर्पित किया जाता है। सावन में दूध न पीने के वैज्ञानिक कारण भी हैं।

माता पार्वती का उपाय


ज्योतिष शास्त्र में ऐसा बताया गया है कि जिन लोगों को अपने काम के अनुरूप नौकरी या व्यवसाय में तरक्की नहीं मिल रही हो, ऐसे लोगों को श्रावण मास की शिवरात्रि पर माता पार्वती को चांदी की बिछिया या पायल अर्पित करनी चाहिए। ऐसा माना जाता है कि ऐसा करने से धन आगमन के नए रास्ते खुल जाते हैं। साथ ही नौकरी और व्यवसाय में तरक्की भी प्राप्त होती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

nine + 18 =

Back to top button