ज्ञानवापी मस्जिद हिंदुओं को सौंपने की मांग सहित कोर्ट में इन मामले की भी सुनवाई

 ज्ञानवापी मस्जिद परिसर हिंदुओं को सौंपने की मांग सहित अखिलेश यादव और असदुद्दीन ओवैसी के आपत्तिजनक बयानों को लेकर एमपी- एमएलए कोर्ट में इस मामले की सुनवाई के लिए सुबह से ही दोनों पक्ष तैयारी में जुटे रहे।

ज्ञानवापी मस्जिद प्रकरण में अदालत में शनिवार को भी दो अलग अलग अदालतों में दो वाद की सुनवाई होने जा रही है। ज्ञानवापी से जुड़े दोनों ही वाद में हिंदू पक्ष की ओर से विश्‍व वैदिक सनातन संघ और मुस्लिम पक्ष की ओर से अंजुमन इंतजामिया मसाजिद कमेटी ज्ञानवापी मस्जिद पक्ष की ओर से अदालत में अपने अधिवक्‍ताओं के साथ मौजूद होकर अदालत में सुनवाई के लिए सुबह से ही तैयारियों में जुटी रही। अदालत में दो प्रमुख मामलों में होने वाली सुनवाई दोपहर दो बजे के बाद होनी है। ऐसे में सुबह से ही आगे की रणनीति बनाने के लिए दोनों पक्ष अधिवक्‍ताओं के साथ परिचर्चा में व्‍यस्‍त रहे।   

ज्ञानवापी मस्जिद से जुड़े पहले मामले में सपा नेता अखिलेश यादव और एआइएमआइएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी के ज्ञानवापी को लेकर कहे गए आपत्तिजनक बयान को लेकर एमपी एमएलए कोर्ट में सुनवाई होनी है। इस मामले में पूर्व में कोई भी आरोपित अदालत में अब तक पेश नहीं हुआ है। ऐसे में अदालत में इस प्रकरण की सुनवाई लंबे समय से चल रही है।

वहीं दूसरी ओर वजूखाने में एडवोकेट कमिश्‍नर की कार्यवाही के दौरान मिले शिवलिंग को लेकर हिंदू पक्ष ने वहां गंदगी करने का आरोप लगाया है। इस मामले में भी अदालत ने पूर्व में ही पूरे वजूखाने को सील करने की कार्रवाई पूरी कर दी है। ऐसे में इस मामले में भी साफ सफाई को लेकर अदालत में वाद लंबित है। वजूखाने में गंदगी करने के खिलाफ दिए गए प्रार्थना पत्र पर भी दोपहर बाद अदालत सुनवाई करेगी।वहीं एक अन्‍य मामले में विश्‍व वैदिक सनातन संघ की महामंत्री किरन सिंह द्वारा ज्ञानवापी परिसर में मुस्लिमों का प्रवेश प्रतिबंधित करने सहित समूचा परिसर हिंदुओं को सौंपने की मांग पर फास्‍ट ट्रैक कोर्ट दोपहर बाद सुनवाई करेगी। इस मामले में मांग की गई है कि सर्वे के दौरान परिसर में हिंदू पक्ष के लिहाज से काफी साक्ष्‍य सामने आए हैं। ऐसे में परिसर को हिंदुओं को सौंपने के साथ ही मुस्लिमों को परिसर में प्रवेश से रोक दिया जाए। 

Related Articles

Back to top button