जाने ड्राई फ्रूट्स खाने का क्या है सही समय,और किन लोगों को इससे रहना चाहिए दूर 

ड्राई फ्रूट्स खाने से शरीर को कई तरह के फायदे मिलते हैं। इसलिए डॉक्टर्स रोजाना नट्स खाने की सलाह देते हैं। अगर आप रोजाना ड्राई फ्रूट्स खाते हैं, तो आपको उनहें खाने के लिए आयुर्वेद के कुछ नियमें का पालन करना चाहिए। ड्राई फ्रूट्स विटामिन ई, कैल्शियम, सेलेनियम, कॉपर, मैग्नीशियम और राइबोफ्लेविन से भरपूर होते हैं। इसी के साथ उनमें आयरन, पोटेशियम, जिंक और बी विटामिन, नियासिन, थायमिन और फोलेट की भी अच्छी मात्रा होती है। ऐसे में आयुर्वेदिक एक्सपर्ट ने इन्हें खाने के तरीके, समय और क्वाटिटी के बारे में बताया।

ड्राई फ्रूट्स खाने के नियम

ड्राई फ्रूट्स में  अच्छी मात्रा में हेल्दी फैट, प्रोटीन, फाइबर होता है। आयुर्वेद के मुताबिक ये काफी हैवी होते हैं ऐसे में इन्हें पचाना काफी मुश्किल होता है। ये नट्स गर्म होते हैं ऐसे में इन नट्स को खाने से पहले आप उन्हें 6 से 8 घंटे के लिए भिगो दें। भिगोने से इसकी गर्मी कम हो जाती है, क्योंकि इससे फाइटिक एसिड / टैनिन निकल जाता है। ऐसे में इन नट्स को पचाना आसान हो जाता है। अगर आप भिगो कर खाना पसंद नहीं करते हैं तो ड्राई रोस्ट करके इन्हें खा सकते हैं। 

ड्राई फ्रूट्स खाने का सही समय और क्वांटिटी

आयुर्वेद एक्सपर्ट की मानें तो आप नट्स खाने के लिए आप सुबह, दोपहर या फिर शाम के नाश्ते में खा सकते हैं, ये भूख को दूर रखने में मदद करते हैं। इसी के साथ अगर आप रोजाना एक्सरसाइज करते हैं और आपको कोई बीमारी नहीं है तो आप एक मुठ्ठी नट्स रोज खा सकते हैं। 

ज्यादा नट्स खाने के साइड इफेक्ट 

– पाचन संबंधी परेशानी
– पेट का भारीपन
– गर्मी की समस्या
– लूज मोशन
– वजन बढ़ना
-भूख न लगना 

किन लोगों को इसे खाने से बचना चाहिए 

हर किसी का शरीर अलग होता है। ऐसे में पाचन, लूज मोशन, जीईआरडी, आईबीएस, कोलाइटिस, नट्स से एलर्जी वाले लोगों को इसे खाने से बचना चाहिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

10 − ten =

Back to top button