यूपी सरकार द्वारा मदरसों का सर्वे कराने का मुस्लिम राष्ट्रीय मंच ने किया पुरुजोर स्वागत

 उत्तर प्रदेश सरकार ने गैर मान्यता प्राप्त मदरसों का सर्वे कराने का निर्णय लिया है, मुस्लिम राष्ट्रीय मंच इसका पुरजोर स्वागत करता है। देश मे ईसाई, बौद्ध, आर्य समाज, ब्रम्हाकुमारी, व्यास पीठ में शिक्षा केन्द्र धर्म की शिक्षा के साथ साथ वैचारिक शिक्षा, व्यावसायिक शिक्षा भी दी जाती है।

लखनऊ (आरएनएस)

सरकार उसका भी निरीक्षण  कराती रहती है। मुस्लिम समुदाय मुख्य धारा से जुड़े व्यावसायिक, कौशल शिक्षा, खेलकूद में आगे बढ़े, धर्म मे भेदभाव से उठकर, एक होकर देश मे आगे बढ़ चले। गैर मान्यता प्राप्त मदरसों का सर्वे होना चाहिये, जिससे सरकार उनकी मदद कर सके। देश में रहने वाले लोग पहले हिंदुस्तानी हैं। जो मदरसे अच्छे रुप से चल रहे है सरकार को चाहिए कि उनकी मदद करें। बहुत से मदरसे चल तो रहे हैं परन्तु रजिस्टर्ड नही हैं उन्हें रजिस्टर्ड होकर मान्यता मिलनी चाहिए।
मदरसों में उच्च स्तर की शिक्षा हो, आधुनिक शिक्षा के साथ अच्छी पढ़ाई हो, जिससे देश के मदरसों में पढ़ने वाले बच्चे मुख्य धारा से जुड़ सके और उनका विकास हो सके!
मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के राष्ट्रीय संयोजकगण मोहम्मद अफजाल, डॉक्टर शाहिद अख्तर, इस्लाम अब्बास, रजा हुसैन रिजवी, डॉक्टर माजिद कालाकोटी, अबूबकर नकवी, एस के मौहद्दीन, रेशमा हुसैन, इरफान पीरजादा, सिराज कुरैशी, शालिनी अली आदि ने इसका पुरजोर समर्थन किया है। इस सन्दर्भ में प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री, गृह, सूचना संजय प्रसाद से लोकभवन में मिलकर जब बताया गया मदरसों के सर्वे के सन्दर्भ में तो उन्होने कहा कि उसकी जांच करके सही मदरसों को आर्थिक मदद देकर आधुनिक शिक्षा के साथ मुख्य धारा में लाया जायेगा।

Tags : #UPNews #UttarPradesh #Upgovernment #MadarshaSurvey #MuslimRashtriyaManch #Hindinews

राष्ट्रीय न्यूज़ 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button