CM योगी ने जनपदवासियों को कई विकास योजनाओं की दी सौगात..

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार को जनपदवासियों को कई विकास योजनाओं की सौगात दे दी। दोपहर ढाई बजे उनका हेलीकाप्टर पुलिस लाइन परिसर में बने हेलीपैड पर उतरा। यहां से वह कलेक्ट्रेट परिसर पहुंचे। यहां विभिन्न विकास परियोजनाओं का मुख्यमंत्री लोकार्पण व शिलान्यास किए। इसके साथ ही योजनाओं के लाभार्थियों को प्रमाण पत्र भी वितरित किए। इसके बाद मुख्यमंत्री जनसभा को भी संबोधित किए।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कलेक्ट्रेट में जनपद को 204 करोड़ की परियोजनाओं की सौगात दी। इसमें लगभग 161 करोड़ की परियोजनाओं का जहां मुख्यमंत्री ने लोकार्पण किया तो लगभग 42 करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास भी किया। कलेक्ट्रेट परिसर में जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने मुख्तार अंसारी का नाम लिए बगैर अपराधियों व माफियाओं के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि अपराधी कितना भी बड़ा हो उसे शिकंजे में लाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने आमजन से अपील किया कि अपराधियों को सामाजिक व्यवस्था के दायरे से दूर करने में साथ दे। सरकार उनके साथ कदम से कदम मिलाकर चल रही है।

जनसभा के बाद मुख्यमंत्री आइटीआई व पुलिस लाइन में बने निर्माणाधीन आवासीय भवनों का निरीक्षण किए। गुरुवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जनपद में ढ़ाई घंटे तक रहे। 2:45 बजे कलेक्ट्रेट में पहुंचे तथा यहां चार बजे तक रहे। चार बजे से साढ़े चार बजे तक मुख्यमंत्री दो परियोजनाओं का निरीक्षण करेंगे। 4:40 बजे से 4:50 बजे तक पुलिस लाइन में बने आवासीय भवनों का भी निरीक्षण करेंगे।

मुख्यमंत्री के आगमन को लेकर लोगों में उत्सुकता रही। इस दौरान जनपद को मुख्यमंत्री कई परियोजनाओं की सौगात भी लिए। पांच बजे पुलिस लाइन के हेलीपैड से हेलीकाप्टर वाराणसी के लिए रवाना होंगे। आगमन को लेकर रूट डायवर्जन किया गया था। जनपद में आने-जाने वाले वाहनों चार पहिया तथा बड़े वाहनों का सुबह 10.00 बजे से शाम 06:00 बजे तक रूट डायवर्जन रहेगा।

जनपद गाजीपुर व बढ़ुआ गोदाम की तरफ से आने वाले सारे चार पहिया व बड़े वाहन बढ़ुआ गोदाम से फोरलेन पर होते हुए मतलुपूर की तरफ रवाना किए गए । जनपद बलिया की तरफ से आने वाले वाहन बलिया मोड़ से दाहिने मुड़कर दांडी मोड़, सहरोज होते हुए मतलुपूर की तरफ गए गए। जनपद गोरखपुर की तरफ से आने वाले सारे चार पहिया व बड़े वाहन डाड़ी मोड़, सहरोज होते हुए मतलुपूर होते हुए बढुआ गोदाम से गाजीपुर की तरफ गए। मुहम्मदाबाद गोहना की तरफ से आने वाले सारे चार पहिया व बड़े वाहन मतलुपूर मोड़ से सहरोज होते हुए डाढ़ी मोड़ होते हुए बलिया मोड़ से बलिया की तरफ भेजा जाता रहा।

Related Articles

Back to top button