ब्रिटिश के अरबपति ने वर्क फ्रॉम होम करने वालों को लेकर कह दी ये बड़ी बात, लोगों ने जमकर किया विरोध

UK Billionaire Criticise Work From Home Culture: एक तरफ जहां कई कंपनियां वर्क फ्रॉम होम को एक्सेप्ट करते हुए इसे परमानेंटली लागू कर रही हैं, तो कुछ कंपनियां ऐसी भी हैं जो इसके सपोर्ट में नहीं दिखतीं. ब्रिटिश अरबपति लॉर्ड एलन शुगर भी उन्हीं में से एक हैं. उन्होंने हाल ही में उन कर्मचारियों पर निशाना साधा है जो अभी भी घर से काम कर रहे हैं. ऐसे कर्मचारियों को उन्होंने “आलसी गिट्स” तक कहा है. उन्होंने लिखा कि ऐसे कर्मचारी कार्यालय जाने वालों की तुलना में कम सैलरी पाने के पात्र हैं. हालांकि उनके इस बयान के बाद सोशल मीडिया पर उनकी जमकर खिंचाई हुई और लोगों ने उन्हें घेर लिया.

सुविधाएं कम करने का दिया था सुझाव

गुड मॉर्निंग ब्रिटेन के एक टॉक शो के बाद बिजनेस मैग्नेट लॉर्ड एलन शुगर ने ट्विटर पर टिप्पणियां कीं कि क्या श्रमिकों को घर पर काम करने के लिए सब्सिडी प्रदान करने की आवश्यकता है. सुगर का मानना है कि घर से काम करने वाले लोग आने-जाने का कोई खर्च नहीं उठाकर पैसे बचा रहे हैं. जीएमबी कह रहा है कि जो लोग घर से काम करते हैं उन्हें एक्टिव रखने के लिए अधिक भुगतान किया जाना चाहिए क्योंकि कंपनियां पैसे बचा रही हैं जबकि कर्मचारी दूर हैं,” उन्होंने ट्वीट करते हुए इस बकवास बताया. एक ट्वीट में, उन्होंने दूरस्थ श्रमिकों को “आलसी गिट्स” के रूप में वर्णित किया, जो काम करने के बजाय घर पर “गोल्फ और टेनिस” देखते हैं. “उन्हें कार्यालय में वापस लाओ या उन्हें निकाल दो.”

तुरंत शुरू हो गया विरोध

एलन शुगर की इन बातों को देखकर फौरन उनका विरोध भी शुरू हो गया. एक यूजर ने लिखा: “और उनके घर में बिजली की खपत के बारे में क्या? रहने की लागत बढ़ रही है और आप कहते हैं कि लोगों को कम भुगतान किया जाना चाहिए। क्या आप ठीक हैं दोस्त?” एक अन्य उपयोगकर्ता के एक ट्वीट में कहा गया, “लोगों को उनके मूल्य का भुगतान किया जाना चाहिए और उनकी नौकरी के लायक क्या है. निश्चित रूप से आने-जाने की कमी के कारण कम भुगतान नहीं किया जाना चाहिए.” एक अन्य यूजर ने लिखा, “लॉर्ड शुगर घर से काम करने वाले लोगों को पसंद नहीं करता है, जबकि वह घर से काम करता है (ठीक है, उसकी नौका).” 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button