भाजपा ने मंगलवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी को आडे़ हाथों लेते हुए कहा.. 

भाजपा ने मंगलवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी को आडे़ हाथों लेते हुए कहा भारत जोड़ो यात्रा में भ्रमण करते-करते राहुल गांधी खुद ही भ्रम के शिकार हो गए हैं। भाजपा ने राहुल गांधी द्वारा दी गई भारत चीन सीमा विवाद को लेकर टिप्पणी पर भी कांग्रेस की आलोचना की।

भारत जोड़ो यात्रा पर निकले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी के बयानों पर भाजपा का हमला जारी है। फिल्म अभिनेता कमल हसन को दिए राहुल गांधी के साक्षात्कार का हवाला देते हुए भाजपा ने कहा कि कांग्रेस नेता चीन के सामने भारत को समर्पण करने की सीख दे रहे हैं। भाजपा प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी के अनुसार कांग्रेस शासन के दौरान भारत हमेशा चीन के सामने यही करता आया है और अब भी राहुल गांधी यही चाहते हैं। भाजपा के अनुसार राहुल गांधी की इस मंशा के पीछे चीन से मिला चंदा या फिर चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के साथ कांग्रेस का हुआ समझौता हो सकता है।

भारत-चीन सीमा विवाद को राहुल गांधी ने रूस-यूक्रेन युद्ध से जोड़ा

भाजपा प्रवक्ता के अनुसार राहुल गांधी ने साक्षात्कार में साफ किया कि यूक्रेन के पश्चिमी देशों के करीब जाने के कारण रूस के आक्रमण का सामना करना पड़ा। भारत पश्चिमी देशों के साथ जा रहा है और इसीलिए चीन कभी भी रूस की तरह भारत पर हमला कर सकता है। सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि हर मुद्दे पर भ्रमित रहने वाले राहुल गांधी ने चीन के मुद्दे पर अपनी मंशा साफ कर दी है। उसमें कोई किन्तु-परन्तु नहीं है।

राहुल गांधी चाहते हैं कि लड़ाई से बचने के लिए भारत चीन के सामने हथियार डाल दे। उन्होंने कहा कि लेकिन राहुल गांधी यह भूल जाते हैं कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत सभी देशों के साथ बराबरी के स्तर पर बात करता है। उन्होंने राहुल गांधी को चार-पांच देशों का नाम बताने की चुनौती दी, जो चीन के साथ हैं। वहीं दुनिया के सभी देश भारत के साथ खड़े हैं।

भारत को समझने के लिए  भारतीयता को समझना जरूरी: सुधांशु त्रिवेदी

सुधांशु त्रिवेदी ने राहुल गांधी की यात्रा पर कटाक्ष करते हुए कहा कि सिर्फ घूमने से भारत को समझना मुश्किल है, इसके लिए भारतीयता को समझना होगा। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी पिछले चार पीढि़यों से भारत की खोज ही कर रहे हैं और अभी तक यह पूरी नहीं हुई है। ध्यान देने की बात है कि भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने ‘भारत एक खोज’ पुस्तक की लिखी थी। 

Related Articles

Back to top button