टेस्ट सीरीज में टीम इंडिया ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ आस्ट्रेलिया में हासिल की ऐतिहासिक जीत

 भारतीय क्रिकेट टीम के लिए यह साल मिला जुला रहा लेकिन एक उपलब्धि ऐसी रही जिसने इतिहास रच दिया। शर्मनाक शुरुआत करने के बाद भी टीम इंडिया ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ आस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज में जीत हासिल की। पहले मैच में शर्मनाक हार के बाद कप्तान विराट कोहली निजी कारणों से भारत वापस लौटे और अजिंक्य रहाणे की कप्तानी में टीम ने दमदार वापसी करते हुए कुछ ऐसा कर दिखाया जिसकी उम्मीद किसी ने नहीं की थी।

भारत ने दूसरी पारी आस्ट्रेलिया में आस्ट्रेलिया को टेस्ट सीरीज में हराते हुए इतिहास रचा। पिछली सीरीज में जब भारत की टीम को आस्ट्रेलिया के मुकाबले मजबूत माना जा रहा था तब टीम ने 2-1 से जीत दर्ज की। इस साल अपनी पूरी ताकत से उतरी आस्ट्रेलिया को भी भारत ने मात दे डाली। चार मैचों की बार्डर गावस्कर सीरीज का नतीजा 2-1 से भारत के हक में गया।

jagran

एडिलेड में मिली शर्मनाक हार

भारत ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में ऐसी हार झेली जिसके बाद कोई दूसरी टीम होती तो वह टूट जाती लेकिन यहां उल्टा हुआ। टीम इंडिया एडिलेड टेस्ट में दूसरी पारी में महज 36 रन पर सिमट गई। इस दिल तोड़ने वाले प्रदर्शन से सबक लेकर भारतीय टीम ने जोरदार वापसी की और सीरीज पर कब्जा किया। भारत ने पहली पारी में 244 रन बनाने के बाद आस्ट्रेलिया को 191 रन पर ढेर किया। इसके बाद दूसरी पारी में टीम इंडिया महज 36 रन बना पाई। मेजबान टीम ने 2 विकेट पर 93 रन बना मैच 8 विकेट से जीता और सीरीज में 1-0 की बढ़त बनाई।

टीम इंडिया का जोरदार वार

दूसरा मुकाबला मेलबर्न में खेला गया कप्तान कोहली की जगह रहाणे ने कमान संभाली और टीम ने वो जोरदार वापसी करते हुए मैच में 8 विकेट से जीत हासिल कर सीरीज में बराबरी कर ली। पहली पारी में आस्ट्रेलिया को टीम इंडिया के गेंदबाजों ने 195 रन पर आलआउट किया। जवाब में कप्तान रहाणे की शतक के दम पर भारत ने पहली पारी में 326 रन बनाते हुए 126 रन की बढ़त बनाई। दूसरी पारी में मेजबान टीम 200 रन ही बना पाई। 2 विकेट खोकर भारत ने 70 रन बनाए और जीत हसिल की।

सिडनी टेस्ट विहारी और अश्विन की जुझारु पारी

बारिश के बाधित मैच में मुकाबले में आस्ट्रेलिया को भारत ने आर अश्विन और हनुमा विहारी की जुझारू पारी के दम पर मैच को ड्रा कराया। रिषभ पंत ने दूसरी पारी में 97 रन की दमदार पारी खेली लेकिन शतक से चूक गए। पहली पारी में आस्ट्रेलिया ने 338 रन बनाए तो भारत की पहली पारी 244 रन पर सिमटी। इसके बाद दूसरी पारी में आस्ट्रेलिया ने 312 रन बनाकर पारी घोषित की। चोट के बाद भी विहारी ने अश्विन के साथ मिलकर दिन का खेल निकाला और मैच ड्रा कराया।

jagran

गाबा में टूटा अस्ट्रेलिया का घमंड

भारत ने आस्ट्रेलिया को गाबा में हराते हुए उनके 32 साल के जीत का रिकार्ड को तोड़ डाला। गाबा का घमंड टूटा और ट्राफी जीतने का सपना भी चकनाचूर हो गया। आस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 369 रन बनाए जिसके जवाब में भारतीय टीम ने 336 रन बनाए। बढ़त के साथ बल्लेबाजी करते हुए कंगारू टीम दूसरी पारी में 294 रन पर सिमट गई। भारत के सामने 328 रन की मुश्किल लक्ष्य था लेकिन शुभमन गिल के 91, पुजारा के 56 और रिषभ पंत के नाबाद 89 रन ने 7 विकेट गंवाकर लक्ष्य हासिल कर इतिहास रच दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

2 + 5 =

Back to top button