चीन के झेंग्झौ में सख्त कोविड लॉकडाउन ,कारखाने से पैदल ही भाग रहे अपने घर कर्मचारी..

China के झेंग्झौ प्रांत में सख्त कोविड लॉकडाउन की घोषणा कर दी गई है। इससे बचने के लिए आइफोन फैक्ट्री में काम कर रहे सैकड़ों मजदूर भाग रहे है। चीनी सोशल मीडिया पर मजदूरों को पैदल ही अपने घर की ओर भागते देखा जा रहा है।

 चीन में कोरोना महामारी खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही है। कई प्रांतों में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। वहीं लॉकडाउन लग जाने के कारण लोगों का जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। इसी बीच चीन के वर्कस देश के सबसे बड़े आइफोन प्लांट को छोड़ कर भाग रहे हैं। बता दें कि चीन ने कोविड के प्रकोप को देखते हुए झेंग्झौ में दुनिया के सबसे बड़े iPhone प्लांट में सख्त कोविड प्रतिबंध लगाने की घोषणा कर दी है।

सख्त आइसोलेशन में रखा जाएगा कर्मचारियों को

कोविड लॉकडाउन से बचने के लिए फॉक्सकॉन के कर्मचारी भाग रहे है। चीनी सोशल मीडिया पर शेयर किए गए वीडियो में लोगों को फॉक्सकॉन के स्वामित्व वाले संयंत्र से बाहर भागते हुए देखा जा सकता है। बताया जा रहा है कि कोरोना के मामले बढ़ने के कारण फॉक्सकॉन में काम करने वाले सभी कर्मचारियों को क्वारंटाइन किया जाएगा। जानकारी के लिए बता दें कि झेंग्झौ फॉक्सकॉन लगभग 300,000 कर्मचारियों को काम पर रखता है और दुनिया के आधे से ज्यादा आइफोन इसी कारखाने में तैयार होते है।

कारखाने से पैदल ही भाग रहे अपने घर

कोविड लॉकडाउन और भोजन की कमी के कारण हेनान प्रांत के कई प्रवासी मजदूर पैदल ही घर भाग रहे है। बता दें कि चीन में लॉकडाउन के कारण सार्वजनिक परिवहन उपलब्ध नहीं है। शनिवार को चीनी सोशल मीडिया पर कई वीडियो वायरल हो रहे है जिसमें देखा जा सकता है कि फॉक्सकॉन के मजदूर अपने घर लौट रहे हैं।

फॉक्सकॉन मजदूरों के लिए सड़कों पर खाने की व्यवस्था भी की जा रही है। हेनान प्रांत की राजधानी झेंग्झौ में पिछले सात दिनों की अवधि में 97 कोरोना के मामले आ गए है। लगभग 10 मिलियन लोगों के शहर को आंशिक रूप से बंद कर दिया गया है। जीरो कोविड पॉलिसी के तहत चीन सख्त लॉकडाउन जारी रखेगा।

चीन की जीरो कोविड पॉलिसी

फॉक्सकॉन, जो यूएस-आधारित एप्पल के सप्लायर के रूप में कार्य करता है, के झेंग्झौ परिसर में हजारों कर्मचारी काम करते हैं। चीन की सख्त शून्य-कोविड नीति के तहत, शहरों को कोरोना मुक्त करने के लिए कई उपाय किए जा रहे है। इसमें लॉकडाउन के साथ-साथ लोगों के बाहर निकलने और यात्रा करने पर भी पूरी तरह से रोक है।

Related Articles

Back to top button