प्रधानमंत्री मोदी ने वाराणसी में पार्टी के पदाधिकारियों को जनता के बीच जाने के लिए दिया आदेश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को बनारस रेल इंजन कारखाना अतिथिगृह सभागार में भाजपा के पदाधिका‍रियों के साथ बैठक किए। प्रधानमंत्री ने विधायकों का पांच साल का रिपोर्ट कार्ड देखें। विकास परियोजनाएं लंबित नहीं रहनी चाहिए। सड़क, बिजली, पानी और आवास जैसी मूलभूत आवश्यकताओं से संबंधित जनता की समस्या की अनदेखी न करें। शीर्ष नेताओं के साथ यूपी के चुनाव को लेकर मंथन किया। कहा कि उम्मीदवारी तय करने में किसी की पैरोकारी या भाई-भतीजावाद कतई न करें।

पीएम सबसे पहले राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात किया। उसके बाद प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह से मिले और प्रदेश की स्थिति के बारे में जानकारी लिया। राष्ट्रीय संगठन मंत्री बीएल संतोष को भी बुला कर उनसे बात की फिर जिला अध्यक्ष हंसराज विश्वकर्मा से जिले के बारे में जानकारी लिया महानगर अध्यक्ष विद्यासागर राय को बुलाकर उनसे स्थिति से अवगत हुए क्षेत्रीय अध्यक्ष महेश श्रीवास्तव से भी मुलाकात हुई। अंत में बनारस के छह विधायक सौरव श्रीवास्तव, सुरेंद्र कुमार सिंह, अवधेश सिंह, रविंद्र जायसवाल, नीलकंठ तिवारी से मुलाकात कर उन से चर्चा किया।

पीएम मोदी ने जनता के बीच उनकी पहुंच और लोकप्रियता का फीडबैक संगठन के स्तर से और स्वतंत्र रूप से लिया जाए। भाजपा के विधायक और सांसद अपने क्षेत्र की विकास परियोजनाओं पर खुद को फोकस करें। सड़क, बिजली, पानी और आवास जैसी मूलभूत आवश्यकताओं से संबंधित जनता की समस्या की अनदेखी न करें। लोगों की समस्याओं का समाधान ही नेता के सदन तक पहुंचने का मार्ग प्रशस्त करता है’। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव के लिए जीत का मंत्र देते हुए कहा कि सांसदों और विधायकों से लेकर जो भी जनप्रतिनिधि हैं वह लगातार जनता के बीच बने रहें। प्रदेश और केंद्र सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के बारे जानकारी देने को कहा गया।

Related Articles

Back to top button