उत्तराखंड में भारी बारिश के बाद भूस्खलन से नेशनल हाईवे सहित कई सड़कें बंद  

उत्तराखंड में भारी बारिश के बाद भूस्खलन से नेशनल हाईवे सहित कई सड़कें बंद हो रही हैं। भंडेलीगाड़ में ध्वस्त यमुनोत्री पैदल मार्ग नहीं खुलने के कारण धाम की यात्रा तीसरे दिन भी बंद रही।

उत्तराखंड में भारी बारिश के बाद भूस्खलन से नेशनल हाईवे सहित कई सड़कें बंद हो रही हैं। भंडेलीगाड़ में ध्वस्त यमुनोत्री पैदल मार्ग नहीं खुलने के कारण धाम की यात्रा तीसरे दिन भी बंद रही। बड़कोट की एसडीएम ने बताया कि, यात्रा मंगलवार को भी स्थगित कर दी है।

उधर, रविवार देर रात अतिवृष्टि से चमोली जिले के सोनला गांव में मलबा घुस जाने से 28 परिवार खतरे की जद में आ गए। एसडीएम बड़कोट शालिनी नेगी ने बताया कि, लोनिवि ने रास्ता बनाने के लिए एक दिन का समय और मांगा है। इसलिए मंगलवार को भी यात्रा स्थगित कर दी गई है। मंगलवार को रास्ते की स्थिति को देखकर आवाजाही को लेकर फैसला किया जाएगा।

सड़क बनी नदी, गांव में तबाही : चमोली जिले के सोनला गांव में रविवार देर रात भारी बारिश के बाद सड़क से होकर पानी और मलबा घरों में घुस गया। पैदल रास्ते और फसल को भी भारी नुकसान पहुंचा है। उधर, श्रीनगर तहसील क्षेत्र के जोगड़ी और रितपुरा गांव में भी बिजली और पानी की लाइनें क्षतिग्रस्त हो गईं।

भारत-तिब्बत सीमा का मलारी हाईवे अवरुद्ध
गोपेश्वर।
 भारत तिब्बत सीमा का मलारी हाईवे नीती के काली मंदिर के समीप चट्टान टूटने से अवरुद्व हो गया है। हाईवे बंद होने से नीती गांव का सम्पर्क कट गया है। सोमवार को सुबह अचानक पहाड़ी से बोल्डर टूटने से हाईवे बंद हो गया।

बीआरओ के कमांडर मनीष कपील ने बताया किजल्द ही सड़क मार्ग को खोल दिया जायेगा। इधर बदरीनाथ हाईवे लामबगड़ में सोमवार से सुचारु हो गया है।  जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी अधिकारी एनके जोशी ने बताया सोमवार सुबह तक 57 ग्रामीण सड़कें जिले में बाधित रहीं।

बारिश से 229 सड़कें बंद
उत्तराखंड में हो रही भारी बारिश की वजह से 229 सड़कें बंद हो गई हैं। इससे राज्य भर में लोगों को आवाजाही में परेशानी उठानी पड़ रही है। खासकर प्रदेश के पर्वतीय क्षेत्रों में लोगों की मुशीबतें बढ़ गई है। लोनिवि के एचओडी अयाज अहमद ने बताया कि रविवार तक राज्य में 212 सड़कें बंद थी। 101 सड़कें सोमवार को भी बंद हुई।

जिसके बाद कुल बंद सड़कों की संख्या 315 हो गई थी। हालांकि रविवार देर सांय तक 86 सड़कों को यातायात के लिए खोल दिया गया। जिसके बाद अब 229 सड़कें बंद रह गई हैं। उन्होंने कहा कि बंद सड़कों को खोलने की कोशिश की जा रही है। राज्य भर में 297 जेसीबी मशीनों को तैनात किया गया है। उन्होंने बताया कि राज्य में प्रमुख रूप से आठ राज्य मार्ग बंद हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

19 + five =

Back to top button