मुम्बई की गुजरात टाइटंस पर सनसनीखेज जीत

 डेनियल सैम्स के आखिरी जबरदस्त ओवर के दम पर मुंबई इंडियंस ने चोटी की टीम गुजरात टाइटंस को आईपीएल मुकाबले में पांच रन से हरा दिया। गुजरात को आखिरी ओवर में जीत के लिए नौ रन चाहिए थे लेकिन सैम्स ने गुजरात को उसकी मंजिल पर जाने से पहले रोक दिया।
मुंबई ने ईशान किशन (45), कप्तान रोहित शर्मा (43) और टिम डेविड (नाबाद 44) की आतिशी पारियों से 20 ओवर में छह विकेट पर 177 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया और फिर गुजरात को 20 ओवर में पांच विकेट पर 172 रन पर रोक दिया।

ईशान और रोहित ने मुम्बई के टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी करते ओपनिंग साझेदारी में 74 रन जोड़े। रोहित और इशान की शुरुआत शानदार रही थी और आधी पारी की समाप्ति पर लग रहा था कि मुंबई 200 का आंकड़ा पार कर जाएगी। हालांकि लगातार अंतराल पर विकेट लेकर गुजरात ने रन गति पर अंकुश लगाया और वापसी की। अंतिम ओवरों में टिम डेविड की आतिशी पारी ने मुम्बई को 170 के पार पहुंचाया।
रोहित ने 28 गेंदों पर 43 रन में पांच चौके और दो छक्के लगाए। ईशान ने 29 गेंदों पर 45 रन में पांच चौके और एक छक्का लगाया। तिलक वर्मा ने 16 गेंदों पर 21 रन बनाये जबकि डेविड ने 21 गेंदों पर नाबाद 44 रन में दो चौके और चार छक्के लगाए।
गुजरात की तरफ से राशिद खान ने 24 रन पर दो विकेट लेने के अलावा दो कैच भी लपके। अलजारी जोसफ, लॉकी फर्ग़्युसन और प्रदीप सांगवान के हिस्से में एक-एक विकेट आया।
लक्ष्य का पीछा करते हुए गुजरात के सलामी बल्लेबाजों रिद्धिमान साहा (55) और शुभमन गिल (52) ने शानदार अर्धशतक बनाये और पहले विकेट के लिए 106 रन की साझेदारी की। लेकिन इस साझेदारी के टूटने के बाद मुम्बई ने नियमित अंतराल पर गुजरात के विकेट निकाले।
साई सुदर्शन हिट विकेट आउट हुए जबकि कप्तान हार्दिक पांड्या को विकेटकीपर ईशान किशन ने सीधे थ्रो पर रन आउट कर दिया। आखिरी ओवर में गुजरात को नौ रन की जरूरत थी। राहुल तेवतिया तीसरी गेंद पर रन आउट हो गए। डेविड मिलर काफी कोशिश करने के बावजूद अंतिम गेंद पर विजयी छक्का नहीं मार सके।
अंतिम गेंद पर मिलर को छक्का लगाना था लेकिन वह ऑफ स्टंप के बाहर की फुल टॉस गेंद पर पूरी तरह से चूक गए, शायद वह उसे पढ़ नहीं पाए और इसने मुंबई के ख़ेमे में ख़ुशियां भर दी। कप्तान रोहित से लेकर सैम्स तक, तिलक वर्मा से लेकर टिम डेविड तक, इशान किशन से लेकर माहेला जयवर्धने तक, मुंबई इंडियंस का हर एक सदस्य खुशी से झूम उठा।
मुंबई की 10 मैचों में यह दूसरी जीत थी जबकि गुजरात 11 मैचों में तीसरी हार के बावजूद शीर्ष पर बने हुए हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

five × two =

Back to top button