कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने दुबई गए पर्यटन मंत्री पर चारधाम व्‍यवस्‍था को लेकर बोला हमला,कह- महाराज राज्य के नहीं, विश्व के पर्यटन मंत्री

पूर्व नेता प्रतिपक्ष और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रीतम सिंह ने दुबई गए पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज पर चारधाम यात्रा व्यवस्था को लेकर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि महाराज राज्य के नहीं, विश्व के पर्यटन मंत्री हैं।

दरअसल, कांग्रेस के तमाम बड़े नेता चारधाम यात्रा व्यवस्था को लेकर इन दिनों प्रदेश सरकार पर हमलावर हैं। कोरोना महामारी के चलते बीते दो वर्ष ठप रही चारधाम यात्रा इस बार पुराने तरीके से प्रारंभ हुई है। ऐसे में बड़ी संख्या में यात्री चारधाम पहुंच रहे हैं। इससे यात्रा को लेकर सरकार की व्यवस्था कम पड़ रही हैं। बीते दिनों गढ़वाल दौरे से लौटे प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा चार धाम में होने वाली मौत और अन्य व्यवस्था के लिए सरकार को जिम्मेदार ठहरा चुके हैं।

बुधवार को मीडिया से बातचीत में पूर्व नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि चारधाम यात्रा की व्यवस्था पंगु साबित हो रही है। यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। सरकार के दावे जमीन पर दिखाई नहीं पड़ रहे हैं। पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज के विदेश दौरे पर तंज कसते हुए प्रीतम सिंह ने कहा कि महाराज प्रदेश के पर्यटन मंत्री नहीं हैं। वैसे भी वह देश और प्रदेश की बात नहीं करते, विश्व की बात करते रहते हैं।

मुख्यमंत्री धामी से मिले प्रीतम व विजयपाल

पूर्व नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह और गंगोत्री के पूर्व विधायक विजयपाल सिंह सजवाण ने बुधवार को सचिवालय में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से मुलाकात की। नेताद्वय ने अपने-अपने क्षेत्रों की समस्याओं को लेकर मुख्यमंत्री से चर्चा की।

धामी ने की उप्र के एसीएस अवनीश अवस्थी की सराहना

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी की कार्य प्रणाली को सराहा।

सचिवालय में बुधवार को सुशासन पर आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री धामी ने बीती पांच मई को हरिद्वार में परिसंपत्तियों के हस्तांतरण को लेकर आयोजित कार्यक्रम के दौरान अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी की कार्य करने की शैली का उल्लेख किया। उन्होंने बताया कि अवस्थी स्वयं कार्यक्रम में संतों का सम्मान कर रहे थे। यह इस बात को बताता है कि सरकार के कामकाज को कितनी गंभीरता से करना चाहिए। सूत्रों के अनुसार बैठक में मुख्यमंत्री धामी ने इसका उल्लेख किया। ऐसा कहकर मुख्यमंत्री ने उत्तराखंड के नौकरशाहों को भी संदेश देने की कोशिश की।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

twelve − three =

Back to top button