एसबीआई की ओर से ग्राहकों को एक बार से फिर से झटका..

एसबीआई की ओर से ग्राहकों को एक बार से फिर से झटका दिया गया है। बैंक की ओर से MCLR को 10 आधार अंक बढ़ा दिया गया है। इसके बाद एक साल की अवधि का MCLR बढ़कर 8.40 प्रतिशत हो गया है।

देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank of India- SBI) की ओर से मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड बेस्ड लेंडिंग रेट marginal cost of funds-based lending rate- MCLR) में 10 आधार अंक या 0.10 प्रतिशत का इजाफा कर दिया गया है। एमसीएलआर की बढ़ी हुई दरें 15 जनवरी से ही लागू कर दी गई हैं। बता दें, मौजूदा समय में एसबीआई फेस्टिव ऑफर के तहत ग्राहकों को लोन की ब्याज दर पर छूट दे रहा है, जो कि 31 जनवरी को समाप्त हो जाएगी।

एसबीआई की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के मुताबिक, एक साल की अवधि पर एमसीएलआर की दर 8.30 प्रतिशत से बढ़कर 8.40 प्रतिशत हो गई है। हालांकि, बैंक की ओर से अन्य अवधियों के एमसीएलआर में कोई भी बदलाव नहीं किया गाया है। दो साल की अवधि के लिए एमसीएलआर 8.50 प्रतिशत और तीन साल के लिए ये 8.60 प्रतिशत पर बरकरार रखा गया है। एक महीने और तीन महीने की एमसीएलआर की दर आठ प्रतिशत है, जबकि ओवरनाइट एमसीएलआर 7.85 प्रतिशत है।

एसबीआई में होम लोन पर ब्याज दरें

दिवाली से ठीक पहले एसबीआई की ओर से होम लोन को लेकर एक फेस्टिव ऑफर निकाला गया था, जिसमें क्रेडिट स्कोर के आधार पर ग्राहकों को 15 से 30 आधार अंकों की ब्याज में छूट दी जा रही है।

ऑफर के तहत एसबीआई 800 से अधिक क्रेडिट स्कोर वाले ग्राहकों को सामान्य होम लोन की ब्याज दर 8.90 प्रतिशत के मुकाबले 8.75 प्रतिशत पर लोन दिया जा रहा है। वहीं, जिनका क्रेडिट स्कोर 750-799 के बीच है, उन्हें 9.00 प्रतिशत के मुकाबले 8.75 प्रतिशत पर और 700-749 क्रेडिट स्कोर वाले ग्राहकों को सामान्य दर 9.10 प्रतिशत के मुकाबले 8.90 प्रतिशत पर लोन दिया जा रहा है।

RBI ने ब्याज दरों को 2.25 प्रतिशत बढ़ाया

बता दें, आरबीआई ने पिछले साल महंगाई को काबू में करने के लिए पांच बार ब्याज दर को बढ़ाया था। इस कारण रेपो रेट 4.00 प्रतिशत से बढ़कर 6.25 प्रतिशत पर आ गया है, जिस वजह से पिछले कुछ महीनों से बैंक लगातार लोन की ब्याज दरों में इजाफा कर रहे हैं।

Related Articles

Back to top button