संजय राउत की गिरफ्तारी साजिश, विरोधियों को चुप कराने की कोशिश : प्रियंका चतुर्वेदी

शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने पार्टी नेता संजय राउत की गिरफ्तारी की निंदा करते हुए इसे ‘राजनीतिक साजिशÓ और सरकार द्वारा बड़े नेताओं को चुप कराने की कोशिश करार दिया है। शिवसेना सांसद राउत को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने पात्रा चावल भूमि घोटाले के सिलसिले में गिरफ्तार किया था और सोमवार को मुंबई की एक विशेष अदालत ने उन्हें चार दिन के ईडी रिमांड पर भेज दिया है।

राउत की गिरफ्तारी को लेकर शिवसेना के अलावा अन्य विपक्षी दलों ने भी केंद्र पर निशाना साधा। पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा, राजा का संदेश स्पष्ट है- ‘जो मेरे खिलाफ बोलेगा उसे भुगतना होगाÓ। राजनीतिक विरोधियों का मनोबल तोडऩे और सरकारी एजेंसियों का इस्तेमाल कर सच्चाई पर पर्दा डालने के प्रयास जारी हैं। . खैर, अंत में ‘सत्यÓ की जीत होगी, और अहंकार की हार होगी।
प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा, हमने राज्यसभा में यह मुद्दा उठाया और गिरफ्तारी के खिलाफ प्रदर्शन भी किया। वह (राउत) हमारे नेता हैं और हम उनके लिए आवाज उठाना जारी रखेंगे।
उन्होंने कहा, ईडी आठ दिनों की रिमांड मांग रहा था, लेकिन अदालत ने एजेंसी को चार दिन की रिमांड दी है। इससे साबित होता है कि उसे सिर्फ परेशान किया जा रहा है, उसके खिलाफ आरोप गलत हैं। हम चुप नहीं बैठेंगे।
इस मुद्दे पर विपक्ष की एकता के बारे में एक सवाल के जवाब में प्रियंका ने कहा, ईडी सोनिया गांधी और संजय राउत के खिलाफ कार्रवाई कर रही है, हम सभी विपक्षी दल के नेता संसद में एकजुट हैं। हम विरोध कर रहे हैं। आम आदमी पार्टी के सत्येंद्र जैन या मनीष सिसोदिया के खिलाफ भी कार्रवाई की जा रही है। ऐसे में सभी राजनीतिक दलों को यह समझना होगा कि यह लड़ाई किसी अकेली पार्टी की नहीं, सबकी लड़ाई है। उन्होंने कहा, आज अगर वे हमारे खिलाफ काम करते हैं, तो कल वे आपके साथ भी ऐसा ही करेंगे, उन्होंने दावा किया कि जल्द ही यह लड़ाई भाजपा के भीतर होगी और ईडी कार्रवाई करेगा।

राष्ट्रीय न्यूज़

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

9 + 20 =

Back to top button