रोहित शर्मा की उम्र बनी बड़ी मुसीबत,जल्द काट सकता है इन खिलाडियों का पत्ता

टीम इंडिया में लगातार कॉम्पिटिशन बढ़ रहा है, जिससे आने वाले दिनों में ‘हिटमैन’ रोहित शर्मा की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. रोहित शर्मा फिलहाल 34 साल के हैं, युवाओं के रहते और 2023 वनडे वर्ल्ड कप को ध्यान में रखते हुए बड़े फैसले लिए जा सकते हैं. 2023 वनडे वर्ल्ड कप ज्यादा दूर नहीं है, जिसके लिए टीम इंडिया को अभी से ही तैयारी करने की जरूरत होगी. 2023 वनडे वर्ल्ड कप भारत में है, जिसके लिए टीम इंडिया पूरा दम लगा देगी. टीम इंडिया में कुछ ऐसे धाकड़ खिलाड़ी हैं, जो ‘हिटमैन’ रोहित शर्मा का जल्द टीम इंडिया से पत्ता काट सकते हैं. आइए एक नजर डालते हैं, ऐसे ही 3 खिलाड़ियों पर: 

पृथ्वी शॉ

तूफानी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ विस्फोटक बल्लेबाजी में माहिर हैं. पृथ्वी शॉ का बल्ला इन दिनों खूब आग उगल रहा था. भारतीय क्रिकेट टीम में पृथ्वी शॉ को ओपनर के तौर पर मजबूत दावेदार माना जा रहा है, जो रोहित शर्मा की जगह को भर सकते हैं. पृथ्वी शॉ को अक्सर रोहित शर्मा की गैरमौजूदगी में टीम इंडिया में मौका मिलता रहा है और उन्होंने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी से सेलेक्टर्स का ध्यान अपनी तरफ खींचा है. पृथ्वी शॉ को सचिन तेंदुलकर और वीरेंद्र सहवाग का कॉम्बिनेशन माना जाता है, जिनके पास एक से बढ़कर एक शॉट्स मौजूद हैं. पृथ्वी शॉ आने वाले दिनों में ‘हिटमैन’ रोहित शर्मा का पत्ता काटकर टीम इंडिया के परमानेंट ओपनर बन सकते हैं. पृथ्वी शॉ की कप्तानी में भारत एक बार अंडर-19 का खिताब भी जीत चुका है. भारत के युवा सितारों ने जब 2019 के अंडर-19 वर्ल्ड कप फाइनल में ऑस्ट्रेलिया को मात दी तो शॉ उस टीम के कप्तान थे. शुभमन गिल और शिवम मावी जैसे सितारे भी उस वक्त उसी टीम का हिस्सा थे. 

ईशान किशन

टीम इंडिया के युवा खिलाड़ी ईशान किशन ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के साथ-साथ विकेटकीपिंग में भी माहिर हैं. पिछले दिनों मुंबई को IPL प्लेऑफ में पहुंचने के लिए हैदराबाद के खिलाफ बड़ी जीत की जरूरत थी, जिसमें ईशान किशन ने 32 गेंदों पर 84 रन कूट डाले. ईशान किशन की इस पारी में 11 चौके और 4 छक्के शामिल थे. ईशान किशन की इस विस्फोटक पारी को देख हर कोई हैरान रह गया. ईशान किशन आने वाले दिनों में रोहित शर्मा की जगह ले सकते हैं और अकेले दम पर मैच का रुख पलट सकते हैं.  

ऋषभ पंत

जिस तरह रोहित शर्मा को मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज से ओपनर बनाया गया, ठीक उसी तरह ऋषभ पंत को भी टीम इंडिया का ओपनर बनाया जा सकता है. टीम इंडिया को इससे सबसे बड़ा फायदा ये होगा कि ऋषभ पंत बाएं हाथ के बल्लेबाज हैं, जो ओपनिंग में किसी भी विरोधी टीम के लिए सिरदर्द साबित हो सकते हैं. ऋषभ पंत टीम इंडिया के ओपनर बन गए तो लंबे समय तक वह इस जगह पर तूफान मचा सकते हैं. ऋषभ पंत कप्तानी में भी माहिर हैं. आने वाले दिनों में वह ओपनिंग के साथ-साथ कप्तानी में भी रोहित शर्मा को टक्कर देंगे. ऋषभ पंत में भी धोनी जैसा ही दम नजर आता है. बता दें कि जब 2007 में धोनी को टीम इंडिया की कप्तानी सौंपी गई थी तो वो उपयोग भी बेहतर साबित हुआ था. धोनी की ही कप्तानी में भारत ने दो वर्ल्ड कप और एक चैंपियंस ट्रॉफी का खिताब जीता था. ये बात सभी जानते हैं कि एक विकेटकीपर मैदान पर किसी भी खिलाड़ी से ज्यादा गेम को समझता है, ऐसे में पंत को धोनी की ही तरह यूज किया जा सकता है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seventeen − six =

Back to top button