नगर निगम के सेवानिवृत्त कर्मचारियों ने घेरा नगर आयुक्त का कक्षचार सूत्रीय मांगों को किया विरोध प्रदर्शन

 नगर निगम के सेवानिवृत्त कर्मचारी पिछले दो सालों से अपनी जायज मांगों को लेकर संघर्ष करते रहे हैं। इसी कड़ी में गुरूवार को एक बार फिर सेवानिवृत्त कर्मचारियों ने नगर निगम मुख्यालय पहुंचकर नगर आयुक्त कक्ष के बाहर ही चार सूत्रीय मांगों को लेकर हंगामा शुरू कर दिया। नगर निगम को सालों अपनी सेवाएं दे चुके यह वृद्ध कर्मचारियों की वहां कोई सुनने वाला नहीं दिखा। इसके बाद काफी देर इस भीषण गर्मी में दर्जनों सेवानिवृत्त कर्मचारी विरोध प्रदर्शन में नारेबाजी करते रहे। जिसके बाद भारी हंगामे को देखते हुए नगर आयुक्त ने कर्मचारी संघठन से दो लोगों को अपने कमरे में बुलाकर उनकी बात सुनने का फरमान भिजवाया ,तब जाकर माहौल कुछ शांत होता दिखा। 

लखनऊ (आरएनएस )

 सेवानिवृत्त कर्मचारी कल्याण समिति के बैनर तले हुए इस विरोध प्रदर्शन में समिति के महामंत्री विमल कुमार पाण्डेय ने तरूणमित्र संवाददाता क ो बताया कि हम लोग पिछले दो सालों से लगातार नगर निगम से अपनी मांगों को लेकर गुहार लगा रहे हैं,लेकिन आज तक कोई सुनवाई नहीं हुई। जिसके क्रम में आज फिर धरना दिया हैं और चार सूत्रीय मांगपत्र नगर आयुक्त को सौंपा हैं। जिसमें नगर निगम के कार्यरत सेवानिवृत्त कर्मचारियों को सातवें वेतनमान के अन्तर का भुगतान अभी तक नहीं किया गया है, जबकि नगर निगम कार्यरत अधिकारियों को उक्त सुविधा अनुमन्य कराई जा चुकी है। इसी प्रकार कार्यरत व सेवानिवृत्त कर्मचारी को 6 डीए के भुगतान अभी तक नहीं दिया गया है। वहीं, मैट्रिक पेंशन के सम्बन्ध में 7 सितम्बर 2019 को तत्कालीन नगर आयुक्त डॉ. इन्द्रमणि त्रिपाठी द्वारा मुख्य वित्त लेखाधिकारी को अधिनस्थों को निर्देशित करने के उपरांत अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है। जिससे कर्मचारियों में रोष है। इसी के साथ जल संस्थान व नगर निगम के सेवानिवृत्त कर्मचारियों,कार्यरत कर्मचारियों को जलकर एवं सीवर कर से मुक्ति दिलाने के लिए कार्रवाई आपेक्षित है। चिकित्सा प्रतिपूर्ति के सरलीकरण के सम्बन्ध में अभी तक आपेक्षित कार्रवाई नहीं की गई है। सेवानिवृत्त कर्मचारियों की आयु अधिक होने के कारण कई कर्मचारियों की मृत्यु हो चुक ी है,और नगर निगम द्वारा उनके खाते भी बन्द किये जा चुके इनका भुगतान किस प्रकार से किया जाएगा यह एक यक्ष प्रश्न है। इस मौके पर ओपी सिंह उपाध्यक्ष,विमल कुमार पाण्डेय महामंत्री,किशन चन्द्र उपाध्याय आदि मौजूद रहे।

Rashtriya News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

eight − five =

Back to top button