झारखंड में 18 साल से वांटेड 5 लाख का इनामी नक्सली कमांडर रामप्रसाद चार सहयोगियों के साथ गिरफ्तार

 झारखंड के पलामू जिले की पुलिस ने 18 साल से वांटेड 5 लाख के इनामी माओवादी नक्सली कमांडर रामप्रसाद यादव ने गिरफ्तार किया है। जिले के छतरपुर थाना क्षेत्र में छापामारी कर उसके चार सहयोगियों को पकड़ा गया है। पलामू के एसपी चंदन कुमार सिन्हा ने बताया कि रामप्रसाद यादव माओवादी संगठन में सब जोनल कमांडर के ओहदे पर था।

राष्ट्रीय (आरएनएस)

संगठन में प्रसाद यादव, सुजीत, सुखाड़ी और भंडारी के नाम से भी जाना जाता था। गिरफ्तार नक्सली के खिलाफ 63 आपराधिक मामले दर्ज हैं। सारे बड़े मामले वर्ष 2004 से लेकर 2013 के बीच दर्ज हुए थे। उसने ज्यादातर हिंसक और जानलेवा घटनाएं छतरपुर, हरिहरगंज, नौडीहा बाजार थाना क्षेत्र में अंजाम दी थी। चुनाव प्रचार गाड़ी पर फायरिंग, पुलिस पार्टी पर फायरिंग, पुलिस के साथ मुठभेड़, लेवी का पैसा नहीं देने के कारण क्रशर प्लांट से आगजनी, लठैया पिकेट को घेरकर पुलिस का हथियार लूटने, घर को बम से विस्फोट कर उड़ाने, दंपति सहित एक परिवार को जिंदा जला देने सहित कई नक्सली वारदातों में राम प्रसाद की संलिप्तता रही है।
एसपी ने दावा किया कि पलामू सहित आस-पास के जिलों और बिहार में नक्सलियों के खिलाफ लगातार चलाये जा रहे अभियान से उनके पांव उखड़ गए हैं। राम प्रसाद यादव बिहार से भागकर छतरपुर इलाके में पहुंचा था और सुरक्षित ठिकाना ढूंढ रहा था। पुलिस ने उसके पास से बतौर लेवी वसूले गए 45 हजार रुपये, दो मोबाइल फोन, एक मोटरसाइकिल भी बरामद किया है। लेवी वसूलने में सहयोग करने के आरोप में पुलिस ने राम प्रसाद यादव के साले कृष्णा यादव के अलावा परीखा यादव, महिला लालो देवी एवं समर्थक रामयाद यादव को गिरफ्तार किया है। ये सभी लोग छतरपुर इलाके के ही रहने वाले हैं। इनकी गिरफ्तारी के लिए अभियान चलाने वाले पुलिस दल में छतरपुर के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अजय कुमार, पुलिस निरीक्षक बीर सिंह मुंडा, छतरपुर थाना प्रभारी शेखर कुमार, हरिहरगंज थाना प्रभारी इंस्पेक्टर सुदामा दास सहित कई अन्य पुलिसकर्मी शामिल थे।

Tags : #JharkhandNews #CrimeNews #Crime #NaxaliteCommander #Wanted #CriminalArrested #JaharkhanPolice #Hindinews #Latestnews

Rashtriya News

Related Articles

Back to top button